JharkhandPalamu

पलामू: गर्म माड़ से दो बच्चियों के झुलसने का मामला, प्रधानाध्यापक पद से हटाये गए, संयोजिका और रसोइया कार्यमुक्त

Palamu: जिले के तरहसी प्रखंड की सेलारी पंचायत के छेचानी मध्य विद्यालय में गर्म माड़ में गिरने से दो बच्चियों के झुलसने की घटना में प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी परमेश्वर साव ने कार्रवाई की है. संकुल साधन सेवी की रिपोर्ट पर सचिव सह प्रधानाध्यापक उमा देवी से स्पष्टीकरण पूछते हुए उन्हें पद से हटा दिया गया है. इसी विद्यालय में कार्यरत सहायक शिक्षक विजय यादव को प्रभारी प्रधानाध्यापक बनाया गया है. प्रधानाध्यापक को इसी विद्यालय में सहायक शिक्षक के पद पर रखा गया है. संयोजिका शोभा देवी और रसोईया कालो देवी एवं सविता देवी को कार्य मुक्त कर दिया गया है. विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष वीरेंद्र साव को भी शोकॉज किया गया है और इस घटना में उनकी भी लापरवाही को दर्शाया गया है. साथ ही उन्हें पद मुक्त करने की चेतावनी दी गई है.

प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि विद्यालय में मध्यान भोजन बनाने के क्रम में चावल बनाने के बाद उसका गर्म माड़ खुले में छोड़ने से यह घटना हुई. प्रधानाध्यापक ने स्कूल में रहते हुए भी इस पर ध्यान नहीं दिया. ऐसे में इस मामले में प्रधानाध्यापक की लापरवाही साबित होतीे है. ऐसे में उन्हें शोकॉज भी किया गया है और  कहा गया है कि ऐसी लापरवाही के लिए क्यों न उनकी सेवा समाप्त कर दी जाए.

बच्चियों के जख्म में थोड़ा सुधार, सीडीपीओ भर्ती कराकर लौटे

जख्मी दोनों बच्चियों (आपस में बहन) का रांची रिम्स में इलाज शुरू होने से उनके जख्म में कुछ सुधार होने की जानकारी दी गई. गत शनिवार को दोनों बच्चियों को एंबुलेंस के माध्यम से जिला प्रशासन बेहतर इलाज के लिए रिम्स भेजा है. तरहसी के सीडीपीओ सह बीडीओ सच्चिदानंद महतो ने स्वयं रांची रिम्स जाकर उन्हें भर्ती कराया है.

सीडीपीओ ने सोमवार को बताया कि दोनों बच्चियों का इलाज रिम्स के बर्न वार्ड में किया जा रहा है. वह पूरी व्यवस्था देखने के बाद लौट गए हैं. बच्ची के पिता भी बाहर से आ गए हैं. परिवार वालों को संयम रखकर इलाज कराने की सलाह दी है. प्रशासनिक स्तर पर 50 हजार की आर्थिक मदद दी गई है. जलने से संबंधित मामले में जख्म भरने में थोड़ा समय लगता है. इंफेक्शन का भी खतरा बना रहता है. ऐसे में एहतियात बरतने की जानकारी परिजनों को दी गई है. डॉक्टर के अनुसार भर्ती होने के बाद इलाज चलने से उनके स्वास्थ्य में थोड़ा सुधार हुआ है. इधर, विभागीय स्तर पर सेविका के खिलाफ कार्रवाई की गई है. परमुक्त करने से संबंधित रिपोर्ट डीएसडब्लूओ कार्यालय में भेज दी गई है.

इसे भी पढ़ें: पलामू के छेचानी आंगनबाड़ी केंद्र में माड़ भरे टब में गिरने से दो बच्ची झुलसी, रिम्स रेफर

Related Articles

Back to top button