Jharkhand Vidhansabha ElectionPalamu

#Palamu: हार-जीत का समीकरण बैठा रहे प्रत्याशी व समर्थक, चौक-चौराहों पर चाय के साथ चुनावी चर्चा गरम

Dilip Kumar

Palamu: पलामू प्रमंडल की 9 विधानसभा सीटों पर वोटिंग गत 30 नवंबर शांतिपूर्ण संपन्न होने पर जिला प्रशासन जहां चौन की सांस ले रहा है. वहीं दूसरी ओर भाजपा, बसपा, राजद, राकांपा, भाजपा समर्थित निर्दलीय, आजसू के प्रत्याशी एवं उनके समर्थक परिणाम को लेकर परेशान और बेचौन हैं. सभी अपने-अपने हिसाब से जीत का दावा कर रहे हैं.

डालटनगंज-हुसैनाबाद सीट पर दो पूर्व मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर

पलामू की डालटनगंज और हुसैनाबाद अभी हॉट सीट मानी जा रही है. यहां दो पूर्व मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर है. डालटनगंज में पूर्व मंत्री व कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी को जहां भाजपा प्रत्याशी अलोक चौरसिया का भय सता रहा है.

advt

इसे भी पढ़ेंः#Zero_Tolerance वाली रघुवर सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि भी हो गयी दागदार

वहीं हुसैनाबाद में भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी विनोद कुमार सिंह से पूर्व मंत्री कमलेश सिंह को बना-बनाया खेल बिगड़ने का खतरा महसूस हो रहा है. जपला शहर के जेपी चौक और अंबेडकर चौक पर स्थित चाय-पान की दुकान पर सुबह से लेकर शाम तक लोग चाय की चुस्की के साथ हार-जीत का गणित अपने-अपने ढंग से लगा रहे हैं और अपने पसंदीदा प्रत्याशी को जीता रहे हैं.

चौक-चौराहों पर जीत-हार की चर्चा आम

डालटनगंज विधानसभा के रेड़मा चौक पर सबसे ज्यादा चर्चा में कांग्रेस के त्रिपाठी जी हैं, तो सद्दीक मंजिल चौक पर भाजपा के आलोक चौरसिया. रेड़मा चौक पर त्रिपाठी जी की जीत का दावा किया जा रहा है तो सद्दीक मंजिल चौक पर भाजपा प्रत्याशी आलोक चौरसिया की जीत के दावे उनके समर्थकों द्वारा किये जा रहे हैं.

वहीं बाजार क्षेत्र की चाय दुकान पर कुछ लोग जेवीएम प्रत्याशी डॉ. राहुल अग्रवाल को जीता रहे हैं. डालटनगंज कचहरी परिसर में मोहन की चाय दुकान पर आलोक चौरसिया को जीता रहे हैं तो सतीश होटल में त्रिपाठी को उनके समर्थकों द्वारा जिताया जा रहा है.

adv

पांकी विस क्षेत्र में चुनावी चर्चा काफी गर्म

पांकी विधानसभा क्षेत्र की चुनावी चर्चा भी डालटनगंज में गर्म है. किसी चौराहे पर कांग्रेस के प्रत्याशी देवेन्द्र सिंह उर्फ बिट्टू सिंह को विजयी बना रहे हैं तो कहीं भाजपा के शशिभूषण मेहता को. शहर के सत्तार सेठ चौक पर निर्दलीय प्रत्याशी मुमताज के जीत के दांवे किये जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंःक्या विधानसभा भवन के उद्घाटन में सरकार व कांट्रैक्टर ने पीएम मोदी की सुरक्षा से भी खिलवाड़ किया!

इसी प्रकार विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र में नीम पेड़ के नीचे चाय दुकान पर भाजपा प्रत्याशी रामचन्द्र चन्द्रवंशी को उनके समर्थक जीत पक्की बता रहे हैं तो जिला परिषद की चाय दुकान पर कांग्रेसी अपने प्रत्याशी चंद्रशेखर दुबे उर्फ ददई दुबे की जीत को सुनिश्चित बताते नहीं अघा रहे हैं.

इधर, झाविमो समर्थक यह दावा कर रहे हैं कि इस बार अंजू सिंह की जीत तय है. जबकि बसपा समर्थक यह दावा कर रहे हैं, इस बार विश्रामपुर में हाथी ने सबको रौंद दिया है.

हुसैनाबाद सीट पर एनसीपी कार्यकर्ताओं में ज्यादा है उत्साह

पलामू की सबसे हॉट सीट माने जानेवाली हुसैनाबाद में एनसीपी के प्रत्याशी पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह के समर्थक सबसे ज्यादा उत्साहित नजर आ रहे हैं. श्री सिंह के समर्थकों का दावा है कि घड़ी की सूई बहुत तेज गति से चल गयी है और कमलेश सिंह नंबर वन हैं.

अब केवल सर्टिफिकेट लेना बाकी है और लड़ाई केवल दूसरे नंबर पर आने के लिए है.
वहीं भाजपा समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार विनोद सिंह के कार्यकर्ता जीत के प्रति पूरी तरह आश्वस्त हैं और भाई विनोद के लिये ताल ठोंक रहे हैं.

साथ ही ये दावा कर रहे हैं कि श्रीराम की कृपा और मोदी की जादुई अंगूठी (चुनाव चिन्ह) से 23 दिसंबर को ईवीएम से जिन्न निकलेगा.

विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता के कार्यकर्ता साध रखे हैं चुप्पी

इसी प्रकार बसपा प्रत्याशी शेर अली के समर्थक यह दावा कर रहे हैं कि पिछले चुनाव की तरह इस बार भी बहन मायावती के हाथी ने सभी प्रत्याशियों के वोट को अपनी सूंढ़ से समेट लिया है और परिणाम चौंकाने वाले होंगे. जबकि राजद प्रत्याशी संजय कुमार सिंह यादव के समर्थकों का दावा है कि हुसैनाबाद में लालटेन की लौ बहुत ज्यादा है और तीसरी बार सामाजिक न्याय की जीत होगी.

इसे भी पढ़ेंः#RBI का उपभोक्ताओं को झटकाः रेपो रेट में कोई कटौती नहीं, GDP अनुमान 6.1% से घटाकर 5 % किया

निवर्तमान विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता के समर्थकों ने चुप्पी साध ली है. श्री मेहता इस बार आजसू के प्रत्याशी हैं. चौक-चौराहों पर श्री मेहता के बारे में जो चुनावी चर्चा है, उसमें कहा जा रहा है कि केला इसबार अकेला हो गया है और पूर्व आकलन में उन्हें पांचवें स्थान पर रखा गया है.

छतरपुर सीट पर तीन दलों के खूब चर्चे

इसी प्रकार छत्तरपुर विधानसभा के छत्तरपुर और पाटन के चौक-चौराहों पर स्थित चाय-पान की दुकानों पर तीन दलों के समर्थक कुछ ज्यादा ही चहचहा रहे हैं. सभी प्रत्याशी और उनके समर्थक जीत का दावा कर रहे हैं, किन्तु सबसे ज्यादा भाजपा और राजद के समर्थक चहक रहे हैं.

भाजपा प्रत्याशी पुष्पा देवी के समर्थकों द्वारा जीत का दावा किया जा रहा है और दलील दी जा रही है कि इसबार यहां मोदी का जादू चल गया है, जिसका काट अब किसी जादूगर के पास नहीं है.

गढ़वा, भवनाथपुर, मनिका और लातेहार में भी चर्चाओं का बाजार गर्म

इसी प्रकार राजद प्रत्याशी विजय राम के समर्थक अपनी जीत का दावा कर रहे हैं और यह कहते नहीं थक रहे हैं कि भाजपा के वोट में तो आजसू प्रत्याशी राधाकृष्ण किशोर ने ही सेंध लगा दी है. साथ ही यह भी कह रहे हैं कि घर का भेदिया लंका ढाहे.

जबकि आजसू प्रत्याशी राधाकृष्ण किशोर के समर्थकों का दावा है कि विकास के नाम पर वोट उनके ही प्रत्याशी को मिला है. अतः आजसू की जीत पक्की है. इसी तरह गढ़वा, भवनाथपुर, मनिका और लातेहार सीट से उम्मीदवारों के पक्ष में जीत-हार का गणित तेजी से बिठाया जा रहा है.

कहीं भाजपा तो कहीं कांग्रेस तो कहीं झामुमो उम्मीदवार की जीत पक्की बतायी जा रही है. लेकिन यह सिर्फ कोरी कल्पना मात्र है.

23 को हो जायेगा पटाक्षेप

आगामी 23 दिसंबर को मेदिनीनगर स्थित बाजार समिति के प्रांगण में मतों की गिनती के बाद ही पता चल पायेगा कि प्रत्याशी एवं उनके समर्थकों के दावे में कितना दम है और मतदाताओं ने डबल इंजन की सरकार बनाने का जनादेश दिया है या खिचड़ी सरकार बनाने का?

इसे भी पढ़ेंःबेरोजगारी और नौकरी खोने का डर बन रहा मौत का कारण, 6 माह में 6 लोगों ने दी जान 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button