JharkhandPalamu

पलामू: झारखंड-बिहार सीमा पर और तेज होगा नक्सलियों के खिलाफ अभियान, सीआरपीएफ आईजी ने की बार्डर की समीक्षा   

विज्ञापन

Palamu: लोकसभा चुनाव को देखते हुए झारखंड-बिहार की सीमा पर नक्सलियों के खिलाफ अभियान को और गति दी जायेगी. लैंड माइंस सहित अन्य नक्सली चुनौतियों से निपटने के लिए सीआरपीएफ के आईजी संजय आनन्द लाटेकर ने रविवार को दो घंटे तक बिहार सीमा की समीक्षा की. हरिहरगंज में बैठक कर इलाके को सेनेटाइज करने पर विशेष बल दिया.

पलामू से लगे गया और औरंगाबाद में पहले चरण में 11 अप्रैल को वोटिंग

गौरतलब है कि पलामू से सटे हुए बिहार के गया और औरंगाबाद में पहले चरण में 11 अप्रैल को वोटिंग है, जबकि पलामू में 29 अप्रैल को वोटिंग होनी है. गया और औरंगाबाद में चुनाव को देखते हुए माओवादियों के खिलाफ बड़ा अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है.

इस इलाके में माओवादियों की उपस्थिति देखी गयी है. ऐसे में सीमा को सील करने की कार्रवाई तेज की जायेगी.

advt

विधि-व्यवस्था की समीक्षा की गयी 

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सीमा सुरक्षा बल के हेलीकॉप्टर से सीआरपीएफ आईजी सीता हाई स्कूल के मैदान में उतरे. गार्ड ऑफ ऑनर लेने के बाद सीआरपीएफ आईजी ने पलामू के बड़े पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की.

बैठक के दौरान लोकसभा चुनाव में किसी तरह की गड़बड़ी न हो, इसके लिए विधि-व्यवस्था की समीक्षा की गयी. साथ ही सुरक्षा व्यवस्था में किसी तरह की कोई चूक नहीं हो, इसके लिए अधिकारियों को कई निर्देश दिये.

उन्होंने अति संवेदनशील बूथों पर विशेष ध्यान रखने और नक्सल प्रभावित इलाकों में लगातार सर्च अभियान की बात कही.

दो घंटे तक हुई समीक्षा बैठक

अधिकारियों ने करीब दो घंटे तक हरिहरगंज में गुजारा और सुरक्षा की समीक्षा की. गया और औरंगाबाद में चुनाव को देखते हुए माओवादियों के खिलाफ बड़ा अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है. आईजी ने लैंडमाइंस के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करने की बात कही.

adv

आईजी ने झारखंड-बिहार सीमावर्ती क्षेत्र में नक्सलियों के समर्थक को चिन्हित करने को कहा गया है. लोकसभा चुनाव के दौरान सुरक्षाबलों की तैनाती से पहले इलाके के सभी रुट को सेनेटाइज करने को कहा गया.

मौके पर ये लोग थे मौजूद थे

बैठक में सीआरपीएफ के कई बड़े अधिकारियों सीआरपीएफ 134 बटालियन के कमांडेंट एडी शर्मा, एसपी इन्द्रजीत महथा मौजूद थे. सीआरपीएफ के द्वितीय कमान अधिकारी बीके त्रिपाठी डीआईजी मेडिकल एके सरकार, सीओ अरूणजय शर्मा, टीएम पैटे सहायक कमांडेंट रूपेश कुमार अभियान एसपी अरूण कुमार सिंह छतरपुर एसडीपीओ शंभू कुमार सिंह पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी वंशनारारण सिंह, एसआई अभिजीत गौतम, इन्द्रदेव राम, एएसआई संजय कुमार सिंह, मो० शकील खान सहित कई सीआरपीएफ व पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः इम्का झारखंड चैप्टर के सदस्‍य जुटे, अनुभव साझा किये, होनहारों को स्कॉलरशिप देने का निर्णय

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button