JharkhandPalamu

#Palamu: अभिनंदन की तरह बहादुर बनें युवा, हवा में ही दुश्मन को मार गिराएं- राज्यपाल

Palamu: मेदिनीनगर में 17 जनवरी को शुरू अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के चार दिवसीय प्रांतीय अधिवेशन के दूसरे दिन शनिवार को कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने बतौर मुख्य अतिथि दीप प्रज्जवलित किया.

शिवाजी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा कि यह देश युवाओं का देश है. 2011 की जनगणना के अनुसार 65 प्रतिशत युवा थे. अभी 75 प्रतिशत युवा हो गये होंगे.

उन्होंने कहा कि देश के युवाओं का भविष्य बेहतर कैसा हो, यह चिंता करने का विषय है. युवा अभिनंदन की तरह बनें और हवा में ही दुश्मन को मार गिरायें. उनकी तरह बहादुर बनें.

उन्होंने कहा कि युवाओं की उर्जा की उम्र 20 से 45 वर्ष होती है. इसे बर्बाद न करें. इसे देश के भविष्य में लगायें.

उन्होंने कहा कि युवा तूफान बनें, ताकि सामने वाला देखकर ही डर जाए और भाग जाए. हमारे देश के युवा बॉर्डर पर दुश्मनों से लड़ रहे है, युवा खेतों में काम कर रहे है जिससे हम सब को अनाज मिल रहा है.

राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू ने सभी उपस्थित कुलपतियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि शिक्षा टाईम-टू-टाईम हो रही है. एक्जाम हो या रिजल्ट सभी टाइम पर आ जा रहा है. उन्होंने कहा कि अभी शिक्षा में छात्र-छात्राओं में कोई फर्क नहीं है.

इसे भी पढ़ें : ब्लॉक से DC ऑफिस रिपोर्ट नहीं पहुंचने के कारण फंसा मुआवजा, सड़क निर्माण के दो साल बाद भी नहीं हुआ भुगतान

कोई भी सरकार सबको नौकरी नहीं दे सकती

राज्यपाल का स्वागत करते परिषद के स्वागताध्यक्ष.

उन्होंने कहा कि देश में 130 करोड़ से भी ज्यादा की जनसंख्या है. देश भर में किसी की भी सरकार हो, सभी को नौकरी देने में सक्षम नहीं होती है. सरकार की कई प्रकार की मजबूरियां होती है. रोजगार के कई साधन है, सुविधाएं हैं.

महामहिम द्रोपदी मुर्मू ने बच्चों को शिक्षा पर सभी अभिभावकों को कहा कि बच्चों को स्कूल भेज देने के बाद अभिभावकों का दायित्व खत्म नहीं हो जाता. बच्चों को स्कूल से वापस आने के बाद उनके हॉमवर्क कराना भी अभिभावकों का दायित्व है.

कोई भी अभिभावक अपने दायित्व से न हटे. अगर देश को आगे बढाना है तो अभिभावकों को अपने-अपने दायित्वों पर खरा उतरना होगा, तभी देश आगे बढ़ेगा और बच्चों को भविष्य उज्जवल होगा. डिवाइड होकर काम करने से कभी सफलता प्राप्त नहीं होगी.

इसे भी पढ़ें : भ्रष्टाचार का सबूत हो तो सिर्फ इसलिए कार्रवाई नहीं करना कि उसे बदले की भावना समझी जायेगी, सही नहीं: सरयू राय

एबीवीपी सबसे बड़ा छात्र संगठन

मौके पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष प्रो. नाथो गाड़ी ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद विश्व का सबसे बड़ा छात्र संगठन है. संगठन समाजिक सौहार्द और अखंडता का काम करता है. उन्होंने कहा कि संगठन राष्ट्रवाद को लेकर पूरे भारत में काम करता है.

उन्होंने कहा कि अभाविप में 2742000 सदस्य हैं, इसके संपर्क स्थान 2885 हैं. उन्होंने कहा कि भारत के साथ-साथ नेपाल में अभविप संगठन का काम किया जा रहा है.

अधिवेशन में झारखंड के नीलाम्बर-पीताम्बर विश्वविद्यालय, रांची विश्वविद्यालय, हजारीबाग के बिनोवा भावे विश्वविद्यालय, कोल्हान विश्वविद्यालय, सिद्धो-कान्हू विश्वविद्यालय, बिरसा कृषि विश्वविद्यालय समेत कई विश्वविद्यालयों के कुलपति व प्रोफेसर्स मौजूद थे.

कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वागत अध्यक्ष सोनू सिंह नामधारी व संचालन संगठन के प्रदेश मंत्री रौशन कुमार सिंह ने किया.

मौके पर विशिष्ट अतिथि केएन रघुनंदन, संगठन राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी, प्रो. कमलाकांत मिश्र, अधिवेशन संयोजक अरविंद गोस्वामी, अमीत तिवारी, पांकी विधानसभा के भाजपा विधायक कुशवाहा डॉ. शशिभूषण मिश्रा, मेदिनीनगर नगर निगम की महापौर अरूणा शंकर, भाजपा नेता मनोज सिंह, माटीकला बोड के सदस्य अविनाश देव, प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष अविनाश वर्मा, नीलाम्बर-पीताम्बर यूनिवर्सिटी के कुलपति सत्येन्द्र नारायण, भाजपा के जिला अध्यक्ष नरेन्द्र पाण्डेय, नीलू मिश्रा समेत कई हस्तियां मौजूद थीं.

इसे भी पढ़ें : झारखंड विकास मोर्चा की केन्द्रीय कार्यसमिति गठित, पदाधिकारियों की लिस्ट से बाहर हुए विधायक प्रदीप और बंधु

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: