JharkhandPalamu

पलामू: दुर्गा पूजा देखने के बहाने साथ ले जाकर दोस्तों ने की थी अर्जुन की हत्या, दो गिरफ्तार- हथियार बरामद

Palamu :  पलामू जिले के चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में हुई अर्जुन कुमार नामक युवक की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. पुलिस की छानबीन में युवक के दोस्त ही कातिल निकले हैं. अनुसंधान के दौरान पुलिस ने अर्जुन के दो दोस्तों को गिरफ्तार किया है, जबकि हत्या में इस्तेमाल की गयी देसी रिवाल्वर और एक खोखा बरामद किया है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेंः अब हर रोज 1500 श्रद्धालु कर सकेंगे बाबा बैद्यनाथ का दर्शन

विदित हो कि चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के परिसर से शुक्रवार की शाम अर्जुन कुमार का शव बरामद किया गया था. अर्जुन के सिर में गोली मारी गयी थी.अर्जुन 24 घंटे से लापता था परिजन उसकी तलाश में जुटे थे, लेकिन उसका कहीं कुछ अता पता नहीं चल रहा था.

मेदिनीनगर सदर एसडीपीओ संदीप कुमार गुप्ता ने बताया कि अर्जुन कुमार की हत्या उसके तीन दोस्तों ने मिलकर की थी. छानबीन के दौरान अर्जुन के दो दोस्तों हसन अली और राहुल कुमार को गिरफ्तार किया गया है, जबकि हत्या में इस्तेमाल की गयी रिवाल्वर और खोखा जप्त किया गया है.

Samford

इसे भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात में तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया

अर्जुन की मां ने लगाया था हत्या का आरोप

सदर एसडीपीओ संदीप गुप्ता ने बताया कि 22 अक्टूबर को अर्जुन की मां सुनीता देवी, पति अशोक चंद्रवंशी के द्वारा चैनपुर थाना में आवेदन देकर बताया गया था कि 22 अक्टूबर को पूर्वाहन 11:30 बजे हसन अली राहुल कुमार उर्फ ऋषि मुनि उर्फ मोटका एवं मुकेश कमलापुरी उर्फ मुखी अर्जुन को दशहरा पूजा देखने के लिए घर से बुलाकर ले गए थे. इसके बाद अर्जुन देर शाम तक घर नहीं लौटा. उसकी खोजबीन की जा रही थी.

इसी बीच आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा से एक एक लड़की ने फोन कर बताया कि उसके बेटे अर्जुन की हत्या कर दी गयी है और उसकी लाश चैनपुर अस्पताल के पीछे मदरसा स्कूल परिसर में सुनसान जगह पर छुपा दिया गया है. विजयवाड़ा की युवती अर्जुन से बात करती थी. उक्त युवती की हसन अली के भाई फरीद से भी बातचीत होती थी. युवती ने बताया था कि हसन ने अर्जुन की हत्या कर दी है और इसकी जानकारी उसने फरीद को दी है. फरीद ने उसे यह जानकारी दी.

इसे भी पढ़ेंः उपचुनाव : जानिये चुनाव आयोग ने उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों की किस ‘मर्जी’ पर कस दी लगाम

एसडीपीओ ने बताया कि छानबीन के दौरान हसन अली और राहुल कुमार को गिरफ्तार किया गया. दोनों से पूछताछ की गयी. दोनों ने स्वीकार किया कि ऑनलाइन लूडो खेलने के दौरान अर्जुन की हत्या गोली मारकर कर दी है और उसका शव चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में मदरसा स्कूल के समीप छुपा दिया है. निशानदेही पर अर्जुन का शव बरामद किया गया. इस कांड के तीसरे आरोपी मुकेश कमलापुरी की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है. जल्द उसकी गिरफ्तारी होगी.

गिरफ्तारी और कांड के अनुसंधान में अभियान में पुलिस निरीक्षक सह चैनपुर थाना प्रभारी आनंद मिश्रा और उनकी पुलिस टीम शामिल थी.

इसे भी पढ़ेंः यहां मां को मुकट चढ़ाना है, तो करना होगा 40 साल इंतजार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: