GarhwaJharkhandPalamu

#Palamu और Garhwa के क्वारंटाइन सेंटरों में अव्यवस्था की शिकायत, उपायुक्तों ने दिखायी गंभीरता, कहीं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग तो कहीं मौके पर जाकर ली गयी स्थिति की जानकारी

Palamu/Garhwa : पलामू प्रमंडल के पलामू और गढ़वा जिले में क्वारंटाइन सेंटरों पर अव्यवस्था की मिल रही शिकायतों पर दोनों जिले के उपायुक्तों ने स्थिति को जांचा. पलामू में जहां उपायुक्त डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सात क्वारंटाइन सेंटरों के प्रभारियों से बात की, वहीं गढ़वा के उपायुक्त हर्ष मंगला ने कई सेंटरों में जाकर जायजा लिया.

इसे भी पढ़ें – #Corona: कोडरमा से 11, सिमडेगा से 4, जमशेदपुर से 3 और रांची से 2 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, झारखंड का आंकड़ा हुआ 350

श्रमिकों को मिले पूरी सुविधा, टर्म पूरा करने पर ही रिलीज करे 

पलामू के उपायुक्त डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने कहा कि किसी भी श्रमिक को क्वारंटाइन पीरियड का टर्म पूरा करने के बाद ही रिलीज किया जाये. सभी क्वारंटाइन सेंटरों पर समुचित साफ-सफाई रखें. साथ ही क्वारंटाइन में रह रहे लोगों का स्वास्थ्य से संबंधित नियमित हाल चाल लेते रहें.

इसके अलावा उन्होंने सभी प्रभारियों को खाने-पीने की समुचित व्यवस्था रखने का निर्देश दिया. उपायुक्त ने शनिवार को समाहरणालय स्थित एनआइसी के सभागार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम के चैनपुर, सतबरवा, रामगढ़, लेस्लीगंज, विश्रामपुर, पांडू, एवं नावा बाजार प्रखंड में बने क्वारंटाइन सेंटरों के प्रभारियों से बात की.

क्वारंटाइन सेंटरों में रह रहे लोगों से की बात

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त ने संबंधित प्रभारियों के मोबाइल से वीडियो कॉल के माध्यम से क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों से बात की. इस दौरान उन्होंने श्रमिकों से खानपान सहित अन्य सुविधाओं के बारे में पूछा. साथ ही किसी तरह की कोई समस्या होने पर अपने प्रभारी से संपर्क करने की बात कही. इस दौरान उन्होंने सभी श्रमिकों से संबंधित सेंटरों पर पेंटिंग, सजावट या बागवानी करने को लेकर चर्चा की. उन्होंने क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों से कहा कि अभी आप लोगों को 14 दिन तक यहीं रहना है तो क्यों न आप सभी इस समय का सदुपयोग कर वहां के भवन को बेहतर बनाने की सोच के साथ कुछ साजसज्जा या बागवानी कर भवन को नया रूप देने में अपना योगदान दें.

इसे भी पढ़ें- फेम इंडिया की “50 प्रभावशाली भारतीय 2020” की सूची में सीएम हेमंत 12वें स्थान पर, केजरीवाल व नीतीश को पछाड़ा, पीएम मोदी सर्वाधिक प्रभावशाली

रमना में उपायुक्त ने दो क्वारंटाइन सेंटर का निरीक्षण किया

गढ़वा के उपायुक्त हर्ष मंगला ने शनिवार को रमना प्रखंड के दो क्वारंटाइन सेंटर का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूरों से उनके स्वास्थ और मिल रही सुविधाओं के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की. डीसी ने मवि सिलीदाग-एक स्थित क्वारंटाइन सेंटर का निरीक्षण कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया.

नाश्ता नहीं मिलने की शिकायत की गयी

निरीक्षण के क्रम में यहां रह रहे मजदूरों ने सुबह में नाश्ता नहीं मिलने की शिकायत की. मजदूरों ने बताया कि पिछले छह दिनों के दौरान उन लोगों को मात्र एक दिन ही सुबह में चना और गुड़ उपलब्ध कराया गया है. मजदूरों ने बताया कि नजदीक के लोग तो नाश्ता नहीं मिलने पर घर से भी मंगा कर खा लेते हैं, लेकिन दूरवाले मजदूरों को दोपहर एक बजे तक भूखे-प्यासे रहना पड़ता है.

नाश्ता उपलब्ध करा कर फोटोग्राफ भेजें

उपायुक्त ने मौके पर मौजूद बीडीओ को प्रतिदिन सुबह में नाश्ता उपलब्ध कराते हुए इसकी फोटोग्राफी कर उन्हें भेजने का निर्देश दिया. इसके बाद डीसी ने सभी मजदूरों से स्वास्थ्य सम्बन्धी दिक्कतों के बारे में बताने को कहा. जिस पर मजदूरों ने कोई समस्या नहीं होने की बात कही. इसके बाद डीसी ने मवि बहियार खुर्द स्थित क्वारंटाइन सेंटर का जायजा लिया. यहां रहे प्रवासी मजदूरों ने डीसी को बताया कि उन्हें यहां किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है. डीसी ने बताया कि 14 दिन की अवधि पूरा करते ही मजदूरों को छुट्टी दे दी जायेगी.

मौके पर बीडीओ यशवंत नायक, थानेदार लालबिहारी प्रसाद, मुखिया अखिलेश्वर पांडेय, प्रखंड सहायक रामानुज शुक्ल, पंचायत सेवक बैजनाथ दुबे, रोजगार सेवक मंजेश तिवारी, स्वयंसवेक सुरेंद्र यादव, अलीजान अंसारी, धर्मेन्द्र विश्वकर्मा, धर्मेन्द्र पांडेय, कुलदीप पासवान सहित कई लोग मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें – #RIMS में चल रहे ‘लालू लंगर’ से हर दिन भूख मिटा रहे 700 गरीब, मछली-चिकेन का भी मिल रहा जायका

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close