Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू : एनएच 98 लाइन होटल में भोजन करने के बाद बंधक बनाकर संचालक से लुटपाट

Palamu : एनएच 98 डालटनगंज-औरंगाबाद मुख्य पथ पर पलामू जिले के नावाबाजार थाना क्षेत्र में एक लाइन होटल में बीती रात बंधक बनाकर डकैती की घटना को अंजाम दिया गया. छह की संख्या में अपराधियों ने पहले लाइन होटल में खाना खाया फिर संचालक सहित अन्य को हथियार का भय दिखाकर गिरफ्त में ले लिया. कमरे में बंद कर 55 हजार नकद और एक लाख से अधिक के आभूषण और बाइक लूटकर फरार हो गये.

हालांकि पुलिस चेकिंग देखकर थाना के सामने बाइक छोड़कर अपराधी निकल गये. सुबह में पुलिस ने बाइक बरामद किया. अपराधियों की पहचान और गिरफ्तारी के लिए पुलिस जुटी हुई है.

इसे भी पढ़ें :झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र शुक्रवार से, हंगामेदार होने के आसार

नावा बाजार थाना क्षेत्र के कंडा में संचालित लाडो लाइन होटल को बुधवार की रात अपराधियों ने निशाना बनाया. छह की संख्या में अपराधी देर रात होटल पहुंचे.

हथियार के दम पर पहले भरपेट भोजन किया, उसके बाद मालिक समेत होटल के ऊपर घर में मौजूद परिवार के सदस्यों और होटल के सभी स्टाफ को बंधक बना लिया और एक कमरे में बंद कर दिया.

इसके बाद अपराधियों ने 55 हजार रुपये नकद और एक लाख 15 हजार के जेवरात लूट लिए और चलते बने. काफी देर के बाद होटल मालिक मनोज मेहता किसी तरह कमरे की दीवार तोड़ कर बाहर निकला और दरवाजा खोला, तब सभी बाहर निकले. मनोज ने बताया कि अपराधी शादी में मिला हुआ फुल व स्टील का वर्तन, तीन मोबाइल फोन और एक बाइक भी ले गये.

इसे भी पढ़ें :शादी से पहले ही टूट गयी सिद्धार्थ शुक्ला – शहनाज गिल की जोड़ी, शहनाज की हालत खराब

घटना को अंजाम देने वाले छह लोग थे, जिसमें तीन मुंह बांधे हुए थे. सभी पिस्तौल और कटार लिए हुए थे. होटल में उत्पात मचाते हुए सबके साथ मारपीट भी की है.

घटना की सूचना के बाद पुलिस सक्रिय हुई और डकैतों द्वारा ले जाई गई बाइक को बरामद कर लिया. इसके अलावे पतरिहा गांव में वासुदेव कुमार भुइंया के घर 11 बजे रात्रि में 15 हजार नकद लूट कर फरार हो गये. थाना प्रभारी लालजी यादव ने बताया कि अपराधियों को गिरफ्तार के लिए पुलिस का अनुसंधान जारी है.

इसे भी पढ़ें :चाचा पारस ने भतीजे चिराग को दिया एक और झटका, पार्टी के इस पद से भी हटाया

समरसेबुल मोटर के साथ एक गिरफ्तार

नावा बाजार पुलिस ने इटको गांव में नव र्निमित हास्पिटल से समरसेबल मोटर चुरा कर टीवीएस लुना से रात्रि में भागने के दौरान नावा बाजार चेक पोस्ट पर पुलिस ने एक चोर को पकड़ा.

चोर की पहचान चेगवना निवासी अजीमुद्दीन अंसारी, पिता हकीम अंसारी के रूप में हुई है. पूछताछ के दौरान अजीमुद्दीन अंसारी ने बताया कि एक और साथी इटको गांव निवासी मिथलेश सिंह उसके साथ शामिल था.

दोनों ने मिलकर समरसेबुल मोटर की चोरी की थी. छानबीन करने पर मिथलेश सिंह घर से फरार मिला. अजीमुद्दीन अंसारी चोरी के मामले में पहले भी चार से पांच बार जेल जा चुका है.

इसे भी पढ़ें :400 प्लस टू स्कूलों में कॉमर्स, बायोलॉजी और संस्कृत के शिक्षक बहाल हो गये, स्टूडेंट की संख्या जीरो

Related Articles

Back to top button