NEWS

पलामू : गर्भवती महिला की मौत के बाद परिजनों ने झोलाछाप डॉक्टर पर लगाया लापरवाही का आरोप

Palamu : गर्भवती महिला की मौत के बाद उसके परिजनों ने एक झोलाछाप डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया है. परिजनों का कहना है कि झोलाछाप डाक्टर द्वारा गलत इलाज किये जाने के बाद ही गर्भवती महिला की मौत हो गयी. घटना मनातू प्रखंड अंतर्गत जसपुर गांव की है.

इसे भी पढ़ेंः6000 के आउटडेटेड मोबाइल को 9000 में खरीद कर आंगनबाड़ी सेविकाओं को बांटने की समाज कल्याण विभाग की…

क्या है मामला

जसपुर गांव के सुनील लोहरा की गर्भवती पत्नी रेखा देवी की मौत झोलाछाप डाक्टर की लापरवाही से हो गयी. सुनील की पत्नी अपने ससुराल छतरपुर से मनातू अपने मायके आई थी. रेखा 7 माह की गर्भवती थी. बीती रात अचानक उसे तेज दर्द के साथ तेज बुखार हुआ.

advt

उसके घरवालों ने सरकारी अस्पताल न ले जाकर पहले बगल के गांव धंधरी ले गए. यहां झोलाछाप डाक्टर से इलाज कराया गया. डॉक्टर ने 2 इंजेक्शन लगाये. इंजेक्शन का असर होते ही मरीज को घबराहट होने लगी और उल्टी भी हुई.

तबियत ज्यादा खराब होने के बाद रेखा के मायके वाले इलाज के लिए उसे सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे. जहां गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टर ने बेहतर इलाज के लिए मेदिनीनगर सदर अस्पताल रेफर कर दिया. लेकिन सदर अस्पताल ले जाने के क्रम में ही रेखा ने दम तोड़ दिया.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड : स्टूडेंट्स रहें सावधान, 14 निजी विश्वविद्यालयों में से सिर्फ दो को ही AICTE की मान्यता

जांच में जुटी पुलिस

मामले की जानकारी थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह को हुआ. जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. थाना प्रभारी ने बताया मृतका के परिजनों ने गांव के एक डाक्टर पर लापरवाही से इलाज करने का आरोप लगाया गया है.

adv

परिजनों का आरोप है कि गलत इंजेक्शन लगाए जाने के बाद ही रेखा की हालत ज्यादा बिगड़ गयी. स्थिति इतनी खराब हो गयी कि रेखा की मौत हो गयी. फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःजिस भगवान बिरसा मुंडा के वंशजों के आवासों के लिए अमित शाह ने किया था भूमि पूजन, वहां एक ईंट भी नहीं जोड़ी जा सकी है

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button