Corona_UpdatesJharkhandPalamu

पलामू : कोविशील्ड, को-वैक्सीन के बाद सरकारी अस्पतालों में लगेगी कोरोना की नयी वैक्सीन जाइकोफ

Palamu : कोविशील्ड, को-वैक्सीन के बाद सरकारी अस्पतालों में अब कोरोना की नयी वैक्सीन जाइकोफ लगेगी. 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को इसका टीका लगाया जायेगा. टीका लेने पर दर्द का एहसास नहीं होगा. टीकाकरण में खराब प्रदर्शन करने के कारण पलामू में जाइकोफ वैक्सीन भेजने का निर्णय लिया गया है. गुरूवार को मेदिनीनगर के सिविल सर्जन कार्यालय सभागार से सीएस ने कोरोना की नयी वैक्सीन जाइकोफ का आनलाइन प्रशिक्षण दिया.

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार ने नयी वैक्सीन लांच की है. जाइकोफ नामक नयी वैक्सीन एक सप्ताह के भीतर पलामू में उपलब्ध हो जायेगी. 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को इसे देना है.

इसे भी पढ़ें:झार जल मोबाइल ऐप लॉन्च, अब चापानलों पर सरकार की होगी सीधी नजर

ram janam hospital
Catalyst IAS

हालांकि पहले से वैक्सीन ले चुके लोगों के लिए यह किसी काम की नहीं है. कारण कि वैसे लोगों को यह वैक्सीन दी जानी है, जिन्होंने पहले से कोविशील्ड या को-वैक्सीन नहीं लगवाई हो.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

दिलचस्प बात है कि यह वैक्सीन डीएनए बेस्ड है. स्कीन के भीतर इसे दिया जायेगा. लाभार्थी को वैक्सीन लेने के दौरान दर्द भी महसूस नहीं होगी. इंजेक्शन लेने से डरने वाले लोगों के लिए भी यह सहायक है.

इसे भी पढ़ें:मुख्यमंत्री हेमंत ने मुखिया और पंचायत प्रतिनिधियों को संदेश भेज योजनाओं से कराया परिचय

सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह ने बताया कि मशीन के माध्यम से हर बार निडिल बदलकर यह वैक्सीन दी जानी है. इससे तकलीफ नहीं होगी. यह पेनलेस है. यह एक नए तरीके की वैक्सीन है. राज्य सरकार की ओर से पलामू के सिविल सर्जन को वैक्सीन लगाने से संबंधित प्रशिक्षण मिला था.

उन्होंने गुरूवार को पलामू के विभिन्न प्रखंडों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को प्रशिक्षण दिया. इस बीच वैक्सीन देने का तरीका बताया गया.

इसे भी पढ़ें:कोडरमा : जिले में लगातार बढ़ रहा है कोरोना का खतरा, सक्रिय मामले हुये 68

28 दिनों के अंतराल में पड़ेगा तीन डोज

कोरोनारोधी वैक्सीन जाइकोफ को लोग तीन डोज में ले सकेंगे. पहला, दूसरा व तीसरा डोज के भीतर 28-28 दिनों का अंतराल होगा.

पलामू के सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह चार दिनों के भीतर वैक्सीन पलामू पहुंच जायेगी. एक सप्ताह के भीतर जिले भर में नई वैक्सीन लोगों को दी जाने लगेगी.

इसे भी पढ़ें:GOOD NEWS : अजीम प्रेमजी फाउंडेशन 14 सौ करोड़ रुपये खर्च कर खोलेगा यूनिवर्सिटी, 150 एकड़ में होगा कैंपस

एमओआईसी स्वास्थ्य कर्मियों को करेंगे प्रशिक्षित

सिविल सर्जन ने जिले के तमाम प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को इससे संबंधित प्रशिक्षण दिया. साथ ही सभी एमओआईसी को निर्देश दिया कि अब वे लोग संबंधित केंद्रों के स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रशिक्षित करेंगे.

प्रशिक्षण में एमआरएमसीएच के उपाधीक्षक डॉ. विजय सिंह, यूनिसेफ के क्षेत्रीय समन्वयक मनीष प्रियदर्शी, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. मृत्युंजय कुमार, डीपीएम दीपक कुमार, चैनपुर के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. चमन कुमार, हुसैनाबाद के डॉ. रत्नेश कुमार, पांकी के डॉ. जुबैर, लेस्लीगंज डॉ. राजीव रंजन समेत कई लोग शामिल हुये.

इसे भी पढ़ें:रिंग रोड मेंटेनेंस का काम देखने वाली कंपनी पर एक्शन ले पथ निर्माण विभाग और प्रशासन : सीटू

Related Articles

Back to top button