न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू:  समय पूर्व चुनाव कार्य के लिए बसों को पकड़ने से यात्री परेशान , एसोसिएशन ने प्रशासन से नाराजगी जताई

शासन ने 23 अप्रैल को बसें जमा करने को कहा था. इसकी सहमति बैठक में हुई थी, लेकिन पुलिस प्रशासन उस सहमति को नहीं मान रहा है

146

Palamu :  लोकसभा चुनाव के लिए यात्री बसों पकड़ लेने से यात्रियों की मुसीबत बढ़ गयी है. लोगों को शादी-ब्याह में बारात के लिए वाहन मिलना तो दूर यात्रियों को आवागमन के लिए बड़ी मुश्किल से बसें मिल रही है. सेामवार को डालटनगंज का बस पड़ाव यात्रियों से खचाखच भरा पड़ा था, लेकिन वहां बसें नदारद थीं. यात्री बार-बार पलामू जिला ट्रांसपोर्ट ऐसोसिएशन के अध्यक्ष से बसों के बारे में बार-बार जानकारी लेते दिखे. बाद में पलामू जिला ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने आपात बैठक की और प्रशासन के प्रति नाराजगी जाहिर की.

इसे भी पढ़ेंः सिद्धार्थ गौतम ने रोड शो के बाद किया नामांकन, पूर्व विधायक कुंती देवी मौजूद रहीं

प्रशासन ने 23 अप्रैल को बसें जमा करने को कहा था

पत्रकरों से बातचीत करते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष रूद्र प्रसाद सिंह एवं महामंत्री मंगल सिंह ने कहा कि प्रशासन ने 23 अप्रैल को बसें जमा करने को कहा था. इसकी सहमति बैठक में हुई थी, लेकिन पुलिस प्रशासन उस सहमति को नहीं मान रहा है और अबतक 35 बसें पलामू पुलिस ने कब्जे में ले ली हैं. उनका कहना है कि गढ़वा एवं लातेहार में भी करीब 30 बसें पुलिस कोषांग ने ले ली हैं.

एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री सिंह ने कहा कि अर्श बस को आज गढ़वा पुलिस ने यात्रियों को उतार कर खाली करा दिया और कब्जे में ले लिया, जबकि उस बस को पलामू के जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने जनता का ख्याल रखते हुए चुनाव कार्य से मुक्त किया था. लेकिन उनके आदेश पत्र को भी तरजीह नहीं दी जा रही है.

hotlips top

उन्होंने कहा कि डालटनगंज नगर-भवनाथपुर, रांची कांडी, पांकी डालटनगंज मार्ग पर कोई यात्री बस नहीं चल रही है. इस रूट की बसों को पुलिस ने चुनाव कार्य के लिए ले लिया है. इस अवसर पर बस एसोसिएशन के ठाकुर किरण कुमार सिंह, कमलनाथ चैबे सहित कई बस ऑनर उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंःगढ़वा : चुनाव में गड़बड़ी फैलाने के लिए हथियारों की खरीद-फरोख्त करते तीन गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like