JharkhandPalamu

पलामू: #JNU की घटना के विरोध में #ABVP ने फूंका वामपंथियों का पुतला, केन्द्र सरकार से कार्रवाई की मांग

Palamu : देश के प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान जेएनयू में छात्रों के दो गुट के बीच हुई हिंसक झड़प के खिलाफ मंगलवार की शाम अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा डालटनगंज में वामपंथियों का पुतला दहन किया गया.

Jharkhand Rai

साथ ही छात्र समुदाय से अपील की कि वह वामपंथी हिंसा से जेएनयू जैसे प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान को बचाने के लिए आगे आएं. कहा गया कि अभी नवीनतम वीडियो जो सामने आया है, उसमें देखा गया है कि जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में प्रवेश करने के लिए हिंसा में लिप्त महिलाओं-पुरुषों की मदद की है.

इसे भी पढ़ेंः आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का नया मॉडल आंत के कैंसर की गंभीरता को बता सकेगा

वामपंथियों पर लगाये आरोप

वामपंथियों ने अभाविप कार्यकर्ताओं को अंधाधुंध तरीके से पत्थर से मारा, जिसमें अभाविप के 25 कार्यकर्ता हिंसा में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. लेफ्ट के नेतृत्व वाले जेएनयूएसयू के सभी फर्जी प्रचार का पर्दाफाश हो गया है.

Samford

वामपंथी छात्रों ने एक अघोषित युद्ध शुरू कर दिया है. जो आम छात्र शांति से पढ़ना चाहते हैं, उन्हें विश्वविद्यालय में हर तरह से रोकने की कोशिश कर रहे हैं, जब वामपंथियों ने देखा कि उनके बहिष्कार के आहवान को नहीं मान रहे हैं तो उन्होंने आम छात्रों की निर्दयता पूर्वक हमला किया.

इसे भी पढ़ेंः मनरेगा योजना में आठ माह से 17041.1 लाख रुपया बकाया, भुगतान नहीं कर रही सरकार

हिंसा की कड़ी निंदा की

अपने एजेंडे का प्रचार करने के लिए वामपंथियों ने विश्वविद्यालय को बदनाम करने के लिए कुछ तस्वीरें और स्क्रीनशॉट साझा किए, जो बाद में नकली पाये गये हैं. इस हिंसा की कड़ी निंदा करने का हम सभी नागरिकों और आम छात्रों से आग्रह करते हैं.

विद्यार्थी परिषद भारत सरकार से मांग करती है कि इन वामपंथी गुंडों पर  से कड़ी कार्रवाई करें, अन्यथा विद्यार्थी परिषद सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन करेगा. कैंपस में भारत माता की जय, वंदे मातरम की उदधोस को बुलंद करने वाले एक मात्र छात्र संगठन वाले परिषद छात्र कार्यकर्ताओं पर हमला अत्यंत ही निंदनीय है। हम सभी इसकी कड़ी निंदा करते हैं.

मौके पर ये लोग थे मौजूद  

पुतला दहन कार्यक्रम में राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य विनीत पांडे, विश्वविद्यालय संजय राजीव रंजन पांडे, जिला संयोजक राजकिशोर सिंह, रोहित पाठख, नगर मंत्री गोविंद मेहता, कॉलेज उपाध्यक्ष रामा शंकर पासवान, मुकेश कुमार, प्रियरंजन तिवारी, सतीश तिवारी, मनीष तिवारी, अभय वर्मा, गुड्डू मेहता, विकी कुमार, रोशन तिवारी, आलोक पांडे, अतुल तिवारी, सौरव तिवारी, विवेक तिवारी, राहुल कुमार चेरो, आशुतोष तिवारी, राहुल चौबे शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंः #Nirbhaya के चारों गुनहगारों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: