JharkhandPalamu

पलामू: इस वर्ष खरीदा जायेगा 9 लाख क्विंटल धान, बनाये गये 40 अधिप्राप्ति केंद्र

Palamu : खरीफ विपणन मौसम वर्ष 2021-22 के लिए धान अधिप्राप्ति के पश्चात परिवहन एवं मिलिंग कार्य किये जाने हेतु मिलर्स चयन को लेकर सोमवार को उपायुक्त शशि रंजन की अध्यक्षता में बैठक हुई. बैठक में पांच राइस मिल के प्रतिनिधियों ने भाग लिया, जिसमें मेदिनीनगर के आरडीएक्स एंड संस, सरायकेला के प्रधान राइस प्रोडक्ट, सासाराम के मॉडर्न हनुमान राइस मिल, रांची से मां देवड़ी राइस मिल एवं औरंगाबाद के नारायण एग्री शामिल थे.

उपायुक्त ने अपर समाहर्ता, डीएसओ, सहकारिता पदाधिकारी व एसडीओ को अपने क्षेत्र अंतर्गत धान खरीददारी के दौरान बिचौलियों एवं फर्जी किसानों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने को लेकर निर्देशित किया है. बैठक में भारतीय खाद्य निगम के अधिकारी के भाग नहीं लेने पर उपायुक्त ने कड़ी नाराजगी जाहिर की.

जिले में विगत वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष अधिक धान की खरीदारी की जायेगी. विगत वर्ष 8 लाख क्विंटल धान की अधिप्राप्ति का लक्ष्य था, जिसे बढ़ाकर इस वर्ष 9 लाख क्विंटल किया गया है.

इसे भी पढ़ें:JHARKHAND NEWS : अपनी मांगों को लेकर एकजुट हुए अनुबंध कर्मी, सरकार को बताया विफल

किसानों की सुविधा को देखते हुए उनके निवास स्थान से निकटतम पैक्स को संबंद्ध किया जायेगा, ताकि किसानों को धान जमा करवाने में किसी तरह की असुविधा ना हो.

विगत वर्ष भारतीय खाद्य निगम के द्वारा 16 धान अधिप्राप्ति केंद्रों से धान प्राप्त किया गया था, वहीं इस वर्ष उपायुक्त ने 40 अलग-अलग स्थानों पर धान अधिप्राप्ति केंद्र बनाये जाने की अनुमति प्रदान की है.

प्रत्येक धान अधिप्राप्ति केंद्र पर पैक्स के अध्यक्ष अथवा सचिव की उपस्थिति में जन सेवकों के माध्यम से धान की खरीदारी की जायेगी. वहीं प्रत्येक किसान को धान जमा करने के पश्चात धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य का 50 प्रतिशत राशि भुगतान कर दिया जायेगा. पलामू में विगत वर्ष 10 हज़ार 927 किसानों द्वारा धान जमा किया गया था.

इसे भी पढ़ें:इस्टर्न इंडिया पावर लिफ्टिंग चैंपियनशिप में झारखंड को टीम चैंपियन का खिताब

उपायुक्त ने अधिकाधिक छूटे हुए किसानों को अपना निबंधन तुरंत करवाने की अपील की. खरीफ विपणन मौसम 2021-22 के लिये धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य एवं बोनस के अनुसार किसानों को साधारण चावल 2050 रुपये प्रति क्विंटल की दर से भुगतान किया जायेगा.

बैठक में अपर समाहर्ता सुरजीत कुमार सिंह, जिला आपूर्ति पदाधिकारी शब्बीर अहमद, सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश कुमार शाह, जिला सहकारिता पदाधिकारी, विभिन्न राइस मिल के प्रतिनिधि समेत अन्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें:उग्रवादी वीरेंद्र मुंडा मौत का मामला :पैर पर मिला था लिखा-हत्या जेलर ने की, जेल IG ने बनाई जांच टीम

Related Articles

Back to top button