न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : निर्वाचन कार्य में लगे 62 पदाधिकारी अनफिट पाये गये, गंभीर बीमारी की शिकायत पर हुई स्वास्थ्य जांच 

206

Palamu : आगामी लोकसभा चुनाव को शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए कई स्तरों पर प्रशासनिक तैयारी चल रही है. मतदान कार्य में लगाये जाने वाले कर्मियों को जहां प्रशिक्षित किया जा रहा है, वहीं उनकी फिटनेश को लेकर भी जिला प्रशासन चिंतित है. जिला प्रशासन किसी कीमत पर चुनाव में व्यवधान नहीं चाहता. इस वजह से कर्मियों की स्वास्थ्य जांच के लिए दो दिवसीय स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया.

इसे भी पढ़ें : वोटर लिस्ट में नाम दर्ज करने को लेकर सभी बूथों पर नो योर बूथ कार्यक्रम आयोजित

समाहरणालय में लगा स्वास्थ्य शिविर

23 एवं 24 मार्च को पलामू समाहरणालय भवन के ब्लॉक-ए में आयोजित स्वास्थ्य शिविर में निर्वाचन कार्य में लगे गंभीर और असाध्य बीमारी से ग्रसित पदाधिकारी और कर्मियों की स्वास्थ्य जांच की गयी. जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त शांतनु कुमार अग्रहरि के निर्देश पर निर्वाचन कार्य में लगे वैसे पदाधिकारियों और कर्मियों की स्वास्थय जांच की गयी, जिन्हें गंभीर और असाध्य बीमारी की शिकायत थी.

इसे भी पढ़ें : चतरा सीट पर टिकी है भाजपा कार्यकर्ताओं की निगाह, स्थानीय प्रत्याशी की मांग

176 आवेदन प्राप्त हुए थे, जांच के बाद 81 फिट पाये गये  

Related Posts

धनबाद : कासा सोसाइटी में बिजली मिस्त्री की मौत, मामला संदेहास्पद

सोसाइटी के लोगों का कहना है कि यह महज एक दुर्घटना नहीं है, बल्कि बिजली मिस्त्री की हत्या की गयी है.

SMILE

दो दिवसीय स्वास्थ्य जांच शिविर कुल 176 आवेदन प्राप्त हुए थे, जिसमें 81 फीट घोषित किये गये. जबकि विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम ने 62 व्यक्तियों को अनफिट घोषित किया. आवेदन देने वालों में से 33 कर्मी अनुपस्थित रहे. पहले दिन 23 मार्च को चिकित्सकों की टीम ने 50 कर्मियों को फीट घोषित किया था, जबकि दूसरे और अंतिम दिन 31 फिट घोषित हुए.

इसे भी पढ़ें : पलामू: अवैध शराब के खिलाफ महिलाएं उतरीं सड़क पर, बनाने और पीने वालों को पुलिस को सौंपने का लिया…

इस स्तर के कर्मियों की हुई स्वास्थ्य जांच 

स्वास्थ्य शिविर में फर्स्ट पोलिंग, पीठासीन पदाधिकारी, सेक्टर ऑफिसर, माइक्रो ऑब्जर्वर और चुनाव कार्य में लगे अन्य कर्मियों की स्वास्थय जांच की गयी. जिन अधिकारी और कर्मियों ने अपनी स्वास्थ्य की जांच कराई, उन्हें हार्ट, ब्रेन हैम्ब्रेज, स्पाइनल कोट, दिव्यांगता, प्रोटेस्ट के अलावा आंख आदि की बीमारी से संबंधित शिकायत थी.

इसे भी पढ़ें :  झारखंड महागठबंधन : नाराज अल्पसंख्यकों मनाने की पहल, 2020 में राज्यसभा भेजने का वादा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: