न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: 10 लाख का इनामी नक्सली छोटे लाल गिरफ्तार

31

Palamu: पलामू पुलिस ने दस लाख के इनामी उग्रवादी को गिरफ्तार को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार उग्रवादी छोटे लाल यादव उर्फ छोटे यादव जेजे एमपी नक्सली संगठन का जोनल कमांडर बताया गया है. शुक्रवार को एक प्रेसवार्ता में पलामू एसपी इंद्रजीत मेहता ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि जेजे एमपी उग्रवादी संगठन का जिला कमांडर छोटे लाल यादव अपने कुछ सहयोगियों के साथ रामगढ़ के तरफ से चैनपुर की ओर आ रहा है.

इसे भी पढ़ेंः212 करोड़ के विस्थापित आवास का काम बिल्डर गुड्डू सिंह को दिया गया

कैसे हुई गिरफ्तारी

पुलिस ने सूचना के आधार पर छोटे लाल की गिरफ्तारी को लेकर सारी तैयारी पूरी कर ली थी. इसी क्रम में रामगढ़ से चैनपुर जाने वाली पक्की सड़क पर कुटी मोड़ के पास गुप्त नाका पुलिस के द्वारा लगायी गयी. तकरीबन 7:15 बजे एक मोटरसाइकिल में सवार दो व्यक्ति पुलिस को दिखाई दिए. पुलिस जब उन्हें इशारा कर रोकने का प्रयास किया तो पुलिस को देख कर वे गाड़ी छोड़कर भागने लगे. एक उग्रवादी अंधेरे का लाभ उठाकर जंगल की ओर भागने में सफल रहा. जबकि पुलिस ने छोटे लाल यादव उर्फ छोटे यादव को पकड़ने में सफलता हासिल की.

दस लाख का इनामी था छोटे लाल

गिरफ्तार उग्रवादी छोटे लाल यादव 10 लाख का इनामी उग्रवादी था. इस पर पलामू में तीन व गढ़वा जिले में लगभग आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं. एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया की गिरफ्तार उग्रवादी छोटेलाल यादव 2009 में माओवादी सगंठन में शामिल हुआ था और फिर बाद में JJMP में शामिल हुआ. छोटेलाल यादव पर भंडरिया में पुलिस पार्टी पर हमला कर 6 जवानों की हत्या करना, हथियार छिनना, थाना प्रभारी को गाड़ी में बंद कर जिंदा जलाना, गढ़वा विधायक पर हमला करने समेत कई संगीन आरोप है. संगठन में वर्चस्व के कारण छोटेलाल ने JJMP के तत्कालिन कमांडर चंचल जी और कमलेश पासवान की हत्या भी कर दी थी. यह चिनिया कांड, भंडरिया कांड, डंडई थाना कांड जैसे बड़े घटना को अंजाम दे चुका है. यह ज्यादातर गढ़वा जिले में सक्रिय रहा है. पुलिस के साथ भी इसकी मुठभेड़ हुई है. लेकिन यह बचकर भाग निकला था. इसके पास से एक पल्सर मोटरसाइकिल बरामद हुई है.

palamu_12

इसे भी पढ़ेंःन्यूज विंग ब्रेकिंग: फंस गई राज्य में सरकारी नौकरियां, परीक्षा लेने में एसएससी भी असमंजस में

जबकि इसके साथ भागने वाला नक्सली का नाम संजय यादव बताया गया है. वह रमकंडा जिला गढ़वा का रहने वाला है. पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी को लेकर भी प्रयास तेज कर दिया है. इसकी गिरफ्तारी टीम में अपर पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह चैनपुर थाना प्रभारी सुमित कुमार सशस्त्र बल के राजीव कुमार समेत कई पुलिसकर्मियों का नाम शामिल है.

इसे भी पढ़ें – हाईकोर्ट निर्माण मामले में सरकार 14 दिसंबर तक दे जवाबः हाईकोर्ट

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: