न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

पाकुड़ः एक घर में रखे तीन दर्जन से अधिक बमों में विस्फोट, कोई हताहत नहीं

770

-सर्च अभियान में पुलिस को एक मास्केट भी मिला
-लोकसभा चुनाव में खलल डालने की तो नहीं थी तैयारी? जांच में जुटी पुलिस

eidbanner

Pakud: जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के पश्चिम बंगाल के मेनकापाड़ा पंचायत अंतर्गत केकलामारी गांव में एक घर में भारी मात्रा में रखे गए बम विस्फोट हो गया है. बम विस्फोट के कारण सीमेंटेड प्लेट टूट गया है. हालांकि कोई हताहत नही है. इधर बम विस्फोट के कारण गांव में भय का माहौल है.

घटना की सूचना मिलते ही अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अशोक कुमार, मुफस्सिल थाना प्रभारी बाबू वंशी साव सहित दर्जनों जवान घटना स्थल पर पहुंच कर छानबीन में जुट गये हैं. पूछताछ के लिए दो लोगों को हिरासत में लिया गया है.

इसे भी पढ़ेंः बाकी है पूरी गर्मी-झेलना होगा बिजली संकट, सिकिदिरी हाइडल प्लांट के लिये पानी ही नहीं

36 से ज्यादा बमों में विस्फोट

प्राप्त जानकारी के अनुसार, केकलामारी गांव के यासीन शेख के घर पर रखे गए तीन दर्जन से अधिक सुतली बम में अचानक विस्फोट हो गया. विस्फोट के बाद अफरातफरी का माहौल उत्पन्न हो गया. यासीन शेख के छह पुत्र हैं. सूत्रों की मानें, तो यासीन के बड़े बेटे मंटू शेख ने ही सुतली बम को रखा था.

बताया जा रहा है कि मंटू शेख पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के समय कई घटना को अंजाम दे चुका है. पश्चिम बंगाल के विभिन्न थाना में उसके खिलाफ मामला भी दर्ज है. हालांकि मंटू शेख की मां ने पुलिस को बताया कि उसके बेटे अखतारुल शेख ने ही बम रखा था.

इसे भी पढ़ेंः ‘राहुल गांधी की सरकार आयेगी तब ही दे पाऊंगा पत्नी को गुजारा भत्ता’

घटना से इलाके में भय का माहौल

इधर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अशोक कुमार के नेतृत्व पूरे घर की तलाशी ली गई जिसमें एक हथियार मास्केट बरामद किया गया है. पुलिस ने भारी मात्रा में हुए बम विस्फोट को लेकर तफ्तीश में जुट गई है.

पुलिस यासीन शेख के घर में भारी मात्रा बम विस्फोट होना और हथियार बरामद मामले में कई बिंदुओं पर जांच कर रही है. मसलन आखिर किन कारणों से बम जमा किये गए थे? आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान किसी घटना को अंजाम तो दिया जाना नहीं था? इधर घटना के बाद आसपास में भय का माहौल है.

पश्चिम बंगाल व झारखंड की सीमा पर है केकलामरी गांव

मुफ्फसिल थाना के केकलामरी गांव के यासीन शेख के घर पर हुए बम विस्फोट कई मायनों में संदिग्ध है. गांव की सड़क एक तरफ बंगाल तो दूसरी तरफ झारखंड है.

जहां पर बम विस्फोट हुए हैं, वहां झारखंड सरकार द्वारा करोड़ों रुपये की लगात से ब्रिज बनाया गया है. सीमेंटेड प्लेट अगर नहीं लगाये जाते तो इस विस्फोट से ब्रिज पर भी असर पड़ सकता था.

इसे भी पढ़ेंःक्या सारण से ससुर चंद्रिका राय को टिकट मिलने से नाराज हैं तेजप्रताप?

उक्त इलाके में पहले भी कई घरों में बम विस्फोट की घटना घट चुकी है. ऐसे में पुलिस के लिए गहन तफ्तीश लाजिमी है. सीमाई इलाका होने के कारण अपराधी बड़ी-बड़ी घटना को अंजाम देकर बंगाल चले जाते हैं.

घटना के बाद पुलिस कप्तान सुनील भाष्कर पल-पल की जानकारी ले रहे थे. पुलिस ने दो लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है.

इसे भी पढ़ेंः50 फीसदी वीवीपैट मिलान पर चुनाव आयोग का जवाबः छह दिन लेट हो जायेगा इलेक्शन रिजल्ट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: