न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विवादों से घिरे पाकुड़ डीसी दिलीप झा का हुआ तबादला, जेसीईसीई के बने एग्जाम कंट्रोलर

885

Ranchi: अक्सर विवादों से घिरे रहने वाले पाकुड़ डीसी दिलीप झा का तबादला कर दिया गया है. कार्मिक विभाग की ओर से इसे लेकर चिट्ठी जारी की गई है. आईएएस दिलीप झा को अगले आदेश तक के लिए झारखंड संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद का परीक्षा नियंत्रक नियुक्त किया गया है.

विवादों से रहा पुराना नाता

उल्लेखनीय है कि पाकुड़ के डीसी रहते दिलीप झा कई बार अपने कुछ निर्णयों को लेकर विवादों में रहें. चाहे वो खनन माफिया को संरक्षण देने का आरोप हो, शराब कारोबार को लेकर चार दिनों के अंदर ही अपना फैसला बदलना हो या फिर अपने से जूनियर अधिकारी के लिए अपशब्द का इस्तेमाल हो. अवैध खनन को लेकर पाकुड़ डीसी के खिलाफ सीएम के सीधी बात में भी शिकायत की गई थी. शिकायतकर्ता ने जिले के सहायक खनन पदाधिकारी और डीसी की मिलीभगत से अवैध खनन होने की बात कही.

इतना ही नहीं, पाकुड़ के डीसी रहते दिलीप झा को खासा विरोध भी झेलना पड़ा था. कई बार अलग-अलग राजनीतिक दलों द्वारा उनके खिलाफ शहर में पोस्टरबाजी की गई. राजद, आजसू के द्वारा शहर में पोस्टबाजी कर डीसी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाये थे. वही अधिकारियों के लिए अपशब्द का प्रयोग करने को लेकर उनकी शिकायत पीएमओ तक की गई थी.

एसपी से भी रिश्ते में रही तल्खी

इसके अलावे जिले के एसपी शैलेंद्र कुमार बर्णवाल से भी उनके रिश्ते कुछ खास अच्छे नहीं दिखे. दोनों के बीच की खींचतान अक्सर मीडिया में आती रहीं. पाकुड़ डीसी ने एसपी के खिलाफ गृह विभाग को शिकायत भी की थी. पाकुड़ डीसी दिलीप कुमार झा एसपी पर आरोप लगाया था कि एसपी जिले में उद्योगों को बढ़ावा देने में आनाकानी कर रहे हैं. जो जिला के विकास के लिए ठीक नहीं है. दरअसल पूरा मामला बीजीआर कंपनी को मैगजीन हाउस खोलने के लिए एसपी द्वारा एनओसी नहीं दिये जाने से जुड़ा था. जिसे लेकर डीसी ने शिकायत की थी.

इसके अलावे पाकुड़ के थानों में सीसीटीवी कैमरा लगाने के प्रकरण को लेकर भी पुलिस महकमा डीसी से नाराज था. उपायुक्त की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए पुलिस मेंस एसोसिएशन ने उपायुक्त दिलीप कुमार झा के तबादले की मांग की थी.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: