JharkhandPakurTODAY'S NW TOP NEWS

पाकुड़: घूसकांड को लेकर ASI समेत छह पुलिसकर्मी सस्पेंड, वसूली का वीडियो वायरल

Pakur: जिले के पाकुड़िया थाना के एएसआई समेत 6 पुलिसकर्मियों को एसपी ने निलंबित कर दिया है. ये कार्रवाई पाकुड़िया पुलिस के घूसखोरी कांड का वीडियो वायरल होने के बाद की गई है. दरअसल, पाकुड़िया थाना के सहायक अवर निरीक्षक सरवर खान समेत कुछ पुलिसकर्मियों द्वारा ट्रक ड्राइवरों से अवैध वसूली का वीडियो सामने आया, और ये वायरल हो रहा है. जिसके बाद मामले पर सख्ती दिखाते हुए एसपी ने 6 पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया.

इसे भी पढ़ेंःधनबाद डीसी का काम नहीं, चीख रहा है हूटर

एसडीपीओ ने की जांच

सस्पेंड किये गये पुलिसकर्मियों में एएसआई सरवर खान के अलावा जैप-9 सी कंपनी के हवलदार धर्मेंद्र कुमार सिंह, आरक्षी गणेश यादव, आरक्षी वीरेंद्र कुमार तिवारी, आरक्षी बिहारी राय, आरक्षी मदन कुमार शामिल हैं. इस वीडियो के सामने आने के बाद एसपी ने महेशपुर के एसडीपीओ शशि प्रकाश को मामले की जांच की जिम्मेवारी सौंपी. इस जांच रिपोर्ट के बाद एसपी ने कार्रवाई करते हुए आरोपी पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से मंगलवार को ही निलंबित कर दिया.

इसे भी पढ़ें- रांची में फादर स्टेन स्वामी के घर पर पुणे की पुलिस ने मारा छापा, लैपटॉप-मोबाइल जब्त

क्या है वीडियो में

पाकुड़ पुलिस की रिश्वतखोरी का खुलासा करते इस वीडियो में पाकुड़िया थाना के एएसआइ सरवर खान ट्रक चालकों से पैसे की वसूली करते नजर आ रहे थे. वीडियो में ट्रक चालकों से पैसा लेते हुए खान कह रहे हैं, ‘कितना दिया है…’ जवाब में एक ट्रक चालक कहता है कि सर दे दिये हैं…

वायरल वीडियो का स्क्रीन शॉट

इसके जवाब में एएसआइ कहते हैं कि कितना दिया रे, सिर्फ कहता है दे दिये… वहीं पैसा लेते ही ट्रक चालक से जल्दी से ट्रक लेकर भागने को कहा जाता है. वीडियो में दिख रहा है कि दूसरे ट्रक चालक से एएसआई कहते हैं कि कौन गाड़ी है… रोज आता है… इस पर ट्रक चालक कहता है, ‘हां सर…’ उसे भी पैसा देने का इशारा एएसआइ करते हैं. ट्रक चालक आरक्षी को पैसा देता है. इसके बाद ट्रक चालक को ट्रक लेकर निकलने का इशारा किया जाता है… वसूली के बाद एएसआइ भी पुलिस बल के साथ निकल जाते हैं.

ट्रक चालकों से वसूली

इसे भी पढ़ेंःभाजपा के पूर्व सांसद अजय मारू ने फर्जी तरीके से खरीदी जमीन : विधानसभा उपसमिति

उल्लेखनीय है कि मामले की जांच कर रहे महेशपुर एसडीपीओ शशि प्रकाश ने सोमवार को ही कहा था कि यह बेहद गंभीर मसला है. मामले की सूचना वरीय पदाधिकारियों को दे दी गयी है. साथ ही दोषी पुलिसकर्मियों पर विधिसम्मत कार्रवाई किये जाने की बात उन्होंने की थी.

Related Articles

Back to top button