Lead NewsNationalNEWS

पाकिस्तान की महिला एजेंट ने भारतीय जवान को रूपजाल में फंसाया, लेती रही सीक्रेट जानकारी, जवान पकड़ाया

New Delhi: पाकिस्तान की महिला आइएसआइ एजेंट ने अपने रूपजाल में फंसा भारतीय सेना के जवान से कई सीक्रेट व अहम जानकारी हासिल कर ली. जानकारी लीक होने की भनक जब भारतीय सेना के अधिकारियों को लगी तो उन्होंने खुलासे के लिए जाल बिछाया. जोधपुर में तैनात एक जवान पर शख हुआ.पुष्टि होने के बाद उक्त जवान को राजस्थान इंडेलिजेंस ने 18 मई को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के बाद जवान को अहसास हुआ कि उसने बहुत बड़ी गलती कर दी. गिरफ्तार सेना जवान ने बताया कि वह आर्मी ऑफिस में जाकर महिला को कई सारी इन्फॉर्मेशन शेयर करता था.

 

आरोपी सेना जवान प्रदीप कुमार उत्तराखंड के रुड़की का रहने वाला है.21 वर्ष की आयु में तीन वर्ष पूर्व में सेना में भर्ती हुआ था. बतौर गनर उसकी पोस्टिंग जोधपुर में सेना की अतिसंवेदनशील रेजिमेंट में हुई. उसने बताया है कि लगभग सात महीने पहले उसके मोबाइल पर एक अनजान लड़की का फोन आया था. इसके बाद लड़की से लगातार बात होने लगी और लड़की ने दोस्ती का स्वांग रचा. लड़की ने खुद को एमपी का निवासी बताया था. साथ ही बताया था कि वह बेंगलुरु में एक मल्टी नेशनल कंपनी में कार्यरत है.

 

दोनों के बीच वीडियो कॉल पर भी बातचीत होती थी. लड़की ने अपने सौंदर्य में प्रदीप कुमार को पूरी तरह से बांध लिया. उसे शादी का झांसा भी दिया. दिल्ली में मिलने का वादा भी किया था. जब दोस्ती गहराई तो तब उसे प्रदीप से सेना के गोपनीय दस्तावेजों के फोटो मांगना शुरू कर दिया. इसके बाद प्रदीप ने कई बार अपने कार्यालय के सेना के सीक्रेट डॉक्यूमेंट की फोटो लेकर उसे भेज दिए. प्रदीप के मोबाइल से इसकी पुष्टि भी हुई है.

 

यह पहला मौका नहीं है जब आइएसआइ की महिला एजेंटों ने भारतीय जवान को अपना शिकार बनाया है. पहले भी इस तरह के मामले सामने आए हैं. जिसके बाद भारतीय आर्मी ने अपने जवानों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि ऑफिशियल वर्क के दौरान व्‍हाट्सएप का इस्‍तेमाल नहीं करें. संवेदनशील काम करते वक्‍त अपने फेसबुक और इंस्‍टाग्राम अकाउंट को डिलीट करने का निर्देश दिया है.

Advt

Related Articles

Back to top button