World

Pakistan : आतंकियों ने तेल कंपनी के दो काफिलों पर घात लगाकर हमला बोला, 21 सैनिकों की मौत

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आतंकवादियों ने बलूचिस्तान-हब-कराची तटीय राजमार्ग पर ओरमारा के पास पहाड़ों से काफिले पर हमला बोल दिया

 Islamabad :  खबर है कि पाकिस्तान  के उत्तरी वजीरिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा इलाके में गुरुवार शाम तेल कंपनियों के दो काफिलों पर आतंकियों ने घात लगाकर हमला किया.  इन हमलों में कम से कम 21 सैनिकों की मौत हो गयी है. पहला हमला उत्तरी वजीरिस्तान और दूसरा खैबर पख्तूनख्वा इलाके में हुआ.

Jharkhand Rai

सेना ने अपने बयान में कहा है कि आतंकवादियों ने उत्तरी वजीरिस्तान के आदिवासी जिले के रज्माक इलाके के निकट एक तेल एवं गैस कंपनी के वाहनों के काफिले को निशाना बनाया.

इसे भी पढ़ें : ADR की रिपोर्ट : भाजपा रही नंबर वन, 2018-19 में 698 करोड़ रुपए का कॉर्पोरेट चंदा मिला, कांग्रेस को मिले 122.5 करोड़

पीएम इमरान खान ने आर्मी चीफ जनरल बाजवा से पूरी जानकारी मांगी 

पाकिस्तानी सेना ने मारे गये सैनिकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई है. इस हमले में कई सैनिक गंभीर रूप से घायल हुए हैं. बता दें कि पीएम इमरान खान ने हमले को लेकर आर्मी चीफ जनरल बाजवा से पूरी जानकारी मांगी है.

Samford

पाकिस्तानी सेना की मीडिया शाखा अंतर-सेवा जनसंपर्क ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि हमले के बाद गोलीबारी में आतंकवादियों के भी मारे जाने की खबर है. इस हमले में फ्रंटियर कोर (एफसी) के सात सैनिक और सात निजी सुरक्षा गार्ड की मौत हो गयी.

इसे भी पढ़ें : राहुल गांधी का मोदी सरकार पर एक और हमला, कहा, पाकिस्तान और अफगानिस्तान भी कोरोना संकट से भारत के मुकाबले बेहतर ढंग से निपटे

काफिला ग्वादर से कराची लौट रहा था

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आतंकवादियों ने बलूचिस्तान-हब-कराची तटीय राजमार्ग पर ओरमारा के पास पहाड़ों से काफिले पर हमला बोल दिया. घटना के दौरान दोनों ही तरफ से गोलीबारी हुई. काफिला ग्वादर से कराची लौट रहा था.

कहा जा रहा है कि आतंकियों ने साजिश रचकर घात लगाकर हमला किया.  आतंकियों को सेना के यहां से गुजरने की जानकारी पहले से थी. रिपोर्ट के अनुसार हमले का दावा बलूचिस्तान लिबरेशन फ्रंट ने किया, लेकिन बाद में एक नए उग्रवादी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी ली.

पाकिस्तान फ्रंटियर कोर के आठ सदस्य भी मारे गये

दो खुफिया अधिकारियों के अनुसार पाकिस्तान की ऑयल एंड गैस डेवलपमेंट कंपनी के सात कर्मियों की मौत हो गयी है. काफिले की सुरक्षा कर रही पाकिस्तान फ्रंटियर कोर के आठ सदस्य   भी इस दौरान मारे गये. पाकिस्तानी सैनिकों पर पांच माह पहले हमला हुआ था. यह चौथा हमला है. अब तक कुल मिलाकर इन हमलों में 50 से अधिक सैनिकों की मौत हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें :  Corona Update: देश में 64 लाख से अधिक संक्रमित हुए स्वस्थ, 24 घंटे में 63 हजार से ज्यादा नये केस

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: