न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पाकिस्तान : बर्खास्त प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के मामले में दस साल की सजा

358

Islamabad : पाकिस्तान के बर्खास्त प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार मामले में एक कोर्ट ने दोषी ठहराते हुए शुक्रवार को दस साल की सजा सुनाई है. बता दें कि नवाज शरीफ के खिलाफ 2016 के पनामा पेपर्स लीक में तीन मामले चल रहे हैं. इनमें से एक मामले में कोर्ट ने सजा सुनाई. पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले चुनाव से चंद हफ्ते पहले अदालत का यह फैसला आया है. पिछले साल नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण प्रधानमंत्री पद छोड़ना पड़ा था. अदालत ने उन्हें चुनाव लड़ने से भी अयोग्य करार दिया था. सरकारी वकील सरदार मुजफ्फर अब्बास का कहना है कि जिस मामले में नवाज शरीफ को सजा हुई है, वह लंदन में आलीशान फ्लैंटों की खरीद से जुड़ा है.

इसे भी पढ़ें-  आफत में हैं अमरनाथ यात्री, 100 रुपये में मिल रहा पानी, पत्थर गिरने से 15 के मरने की अफवाह

नवाज शरीफ को दस साल, बेटी मरियम को पांच साल और दामाद सफदर को एक साल की सजा

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस मामले में नवाज शरीफ की बेटी और उनके दामाद को भी दोषी ठहराया गया है.  अखबार डॉन की वेबसाइट के अनुसार नवाज शरीफ को दस साल, उनकी बेटी मरियम को पांच साल और दामाद सफदर को एक साल की सजा मिली है.  इसके अलावा कोर्ट ने नवाज शरीफ पर आठ मिलियन पाउंड और मरियम पर दो मिलियन पाउंड का जुर्माना भी लगाया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सजा सुनाये जाने के बाद शहर में धारा 144 लागू कर दी गयी है.

 

पुलिस को हाईअलर्ट पर रखा गया है. कोर्ट के फैसले के बाद नवाज शरीफ के भाई शहबाज शरीफ ने मीडिया से बात करते हुए कहा, हम लोग सभी कानूनी और संवैधानिक विकल्पों के जरिए न्याय की लड़ाई लड़ेंगे.  नवाज शरीफ ने हमेशा बहादुरी से लड़ाई लड़ी है. बता दें कि शरीफ अभी अपनी बीमार पत्नी की देखभाल के लिए लंदन में हैं.  संभावना जताई जा रही है कि वे कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील करेंगे.

 

नवाज शरीफ अपने खिलाफ सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते हैं. उनका आरोप है कि सेना और अदालतों ने उन्हें सत्ता से बाहर रखने के लिए मिल कर षडयंत्र किया है और वे क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान को सत्ता में लाना चाहते हैं. इस तरह के आरोपों को इमरान खान, पाकिस्तानी सेना और न्यायपालिका सभी ने खारिज किया है

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: