न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पाकुड़ : पचुवारा सेंट्रल कोल ब्लॉक परियोजना के सिम में पांच हफ्तों से फैली है आग 

836

Pakud : जिले के अमड़ापाड़ा में वर्षों से बंद पड़ी पचुवारा सेंट्रल कोल ब्लॉक परियोजना के सिम में पिछले चार पांच सप्ताह से आग लगी होने की खबर आई है. उल्लेखनीय है कि इस सिम में करीब साठ करोड़ टन कोल रिजर्व है.

इसे भी पढ़ें- दर्द-ए-पारा शिक्षक: फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की नौकरी छोड़ बने पारा शिक्षक, अब मानदेय के अभाव में बने…

काबू नहीं पाया गया तो झरिया बन सकता है क्षेत्र

पहले भी इस कोल ब्लॉक परियोजना के सिम में वर्ष 2015 तथा 2016 में आग लग चुकी है. जिसे उस वक्त बड़ी मुश्किल से बुझाया जा सका था. जानकार लोगों के मुताबिक कोल सिम में लगी आग अंदर ही अंदर फैल रही है. जल्द ही अगर इस पर काबू नहीं पाया गया तो आने वाले दिनों में यह क्षेत्र भी झरिया की तरह बन सकता है.

आग लगने के बावजूद ग्रामीण बगल से कोयला खोद रहे हैं. जो कि ग्रामीणों के लिए ना सिर्फ खतरनाक है बल्कि इससे उनकी जान भी जा सकती है. जरुरत है प्रशासन को जल्द से जल्द कार्रवाई करने की ताकि किसी भी तरह की बड़ी घटना को होने से टाला जा सके.

Related Posts

#Koderma: सीएम की आस में लोग घंटों बैठे रहे, कोडरमा आये, पर कायर्क्रम में नहीं पहुंचे रघुवर तो धैर्य टूटा, किया हंगामा

नाराज लोगों ने की हूटिंग, विरोध भी किया, बाद में मंत्री-विधायक ने संभाला मोर्चा

WH MART 1

इसे भी पढ़ें- गुमला में नक्सलियों का तांडवः पुलिस मुखबिरी के आरोप में व्यापारी की अगवा कर हत्या, ट्रक भी फूंका

क्या कहते हैं जिला खनन पदाधिकारी

इस संबंध में जिला खनन पदाधिकारी उत्तम कुमार विश्वास ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी मिली है और उन्होंने तुरंत पट्टाधारी पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों को पत्र भेज कर अविलंब सभी जरूरी कदम उठाने को कहा है.

उन्होंने यह भी कहा कि कोल सिम अथवा रिजर्व में इस तरह की आग का लगना एक सामान्य प्राकृतिक व स्वाभाविक प्रक्रिया है. इसे लेकर बहुत ज्यादा चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like