National

पाक उच्चायोग के अधिकारियों पर जासूसी का आरोप, भारत ने कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत घटाने को कहा

विज्ञापन

New Delhi : भारत ने मंगलवार को पाकिस्तान से यहां उसके उच्चायोग में कर्मचारियों की संख्या अगले सात दिनों के अंदर 50 प्रतिशत घटाने को कहा. साथ ही, इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग में इसी अनुपात में अपने कर्मचारियों की संख्या में कटौती करने की भी घोषणा की.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान उच्चायोग के उप उच्चायुक्त को तलब किया गया और इस फैसले से अवगत कराया गया है.

advt

इसे भी पढ़ें – झारखंड में 23 जून को कोरोना संक्रमण के 37 मामले, कुल केस 2177

आतंकी संगठनों से संबंध का भी आरोप

मंत्रालय ने कहा कि इस फैसले की वजह जासूसी गतिविधियों में पाकिस्तान उच्चायोग अधिकारियों की कथित संलिप्तता और उनका आतंकवादी संगठनों से संबंध रखना है. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में इस्लामाबाद में हाल ही में दो भारतीय अधिकारियों का अपहरण होने और उनके साथ किये गये बर्बर बर्ताव का भी जिक्र किया गया है.

मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान और इसके अधिकारियों का बर्ताव वियना संधि तथा राजनयिक अधिकारियों एवं दूतावास अधिकारियों के साथ व्यवहार के बारे में द्विपक्षीय समझौतों के अनुरूप नहीं है. इसके उलट, यह सीमा पार (भारत में) हिंसा और आतंकवाद का समर्थन करने वाली एक वृहद नीति का स्वाभाविक हिस्सा है.

adv

इसे भी पढ़ें – चीनी सैनिकों से हुई झड़प में घायल हुए सैनिकों से मिले सेना प्रमुख नरवणे, बढ़ाया हौसला

मंत्रालय ने कहा कि इसलिए भारत ने नयी दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग में कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत घटाने का फैसला लिया है.

पाक में भी भारत घटायेगा अपने कर्मचारी

मंत्रालय ने कहा कि यह (भारत) भी इसके बदले में इस्लामाबाद में इसी अनुपात में अपनी मौजूदगी घटायेगा. इस फैसले से, जो सात दिनों में क्रियान्वित किया जायेगा, पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को अवगत करा दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – बाबा रामदेव को झटका, सरकार ने कोरोना की दवा का प्रचार रोकने को कहा

advt
Advertisement

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close