World

पाक का दावा : झूठ बोल रहे बिपिन रावत, कहा- जहां निशाना बनाया वहां नहीं था कोई शिविर

Islamabad : पाकिस्तान सेना ने अपने देश के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में कम से कम तीन आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाने के भारतीय सेना के दावे को झूठा बताते हुए खारिज कर दिया. पाकिस्तान का कहना है कि भारत अपने दावों को सही साबित करने के लिए किसी भी विदेशी राजनयिक या मीडिया को घटनास्थल पर ला सकता है.

दरअसल सेना प्रमुख बिपिन रावत ने रविवार को कहा था कि जम्मू कश्मीर के तंगधार और केरन सेक्टर के दूसरी तरफ भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में छह से 10 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए. और तीन आतंकवादी शिविर नष्ट कर दिये गए.

इसे भी पढ़ें – क्या है पत्थलगड़ी का गुजरात-राजस्थान कनेक्शन, समर्थक अभिवादन में ‘जोहार’ की जगह कहते हैं ‘पितु की जय’

रावत के बयान को बताया निराशाजनक

इसके बाद पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने आधी रात को ट्वीट करके भारतीय सेना प्रमुख के दावे पर निराशा जताते हुए कहा कि भारतीय सेना प्रमुख का यह बयान निराशाजनक है. क्योंकि वह बहुत जिम्मेदारी वाले पद पर हैं.

उन्होंने कहा कि निशाना बनाने की बात छोड़िए, वहां कोई शिविर ही नहीं है. पाकिस्तान में भारतीय दूतावास का स्वागत है कि वह किसी भी विदेशी राजनयिक या मीडिया को लाकर इस बात को साबित कर सकता है. साथ ही कहा कि वरिष्ठ भारतीय सैन्य नेतृत्व के  खासकर पुलवामा की घटना के बाद से झूठे दावों की प्रवृत्ति क्षेत्र में शांति के लिए नुकसानदेह है.

गफूर ने कहा कि भारतीय सेना निहित घरेलू हितों को साधने के लिए इस प्रकार के झूठे दावे कर रही है. यह पेशेवर सैन्य लोकाचार के खिलाफ है.

इसे भी पढ़ें – चंदनकियारीः गठबंधन वाली आजसू और बीजेपी के बीच हो रही खस्सी और बॉलीवुड ग्लैमर वाली राजनीति

 

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close