न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत में सर्जिकल स्ट्राइक की कवायद में पाक सेना और लश्कर-ए-तैय्यबा!

भारत की सर्जिकल स्ट्राइक की मार का दर्द सह रहा पाकिस्तान इसका बदला देने की नाकाम कोशिश कर रहा है.

21

 NewDelhi : भारत की सर्जिकल स्ट्राइक की मार का दर्द सह रहा पाकिस्तान इसका बदला देने की नाकाम कोशिश कर रहा है. खबरों के अनुसार पाकिस्तानी सेना और खूंखार आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैय्यबा  नियंत्रण रेखा (एलओसी) से सटी भारतीय चौकियों पर बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक करने की साजिश रचने में लगे हुए हैं. खुफिया विभाग के सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी सेना के स्पेशल सर्विसेज ग्रुप के कमांडो और लश्कर-ए-तैय्यबा  के आतंकी जम्मू-कश्मीर के रजौरी और पुंछ सेक्टर में सक्रिय बताये गये हैं. बता दें कि नववर्ष के एक दिन पूर्व 31 दिसंबर को भारतीय सेना ने दो घुसपैठियों को मार गिराया था. बताया जा रहा है कि ये घुसपैठिए पाकिस्तानी सेना के सैनिक थे. इस क्रम में भारतीय सेना ने पाकिस्तान के बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) का हमला भी नाकाम कर दिया था.

जान लें कि पाकिस्तानी बैट ने नियंत्रण रेखा से सटे उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के नौगाम सेक्टर की भारतीय चौकियों को निशाना बनाने की कोशिश की थी, लेकिन उसकी यह कोशिश नाकाम रही थी. इस साल यह दूसरी बार था, जब पाकिस्तानी सेना ने भारत में घुसपैठ कराने और अग्रणी भारतीय चौकियों पर हमला करने के लिए बैट का इस्तेमाल किया.

पाकिस्तानी सेना ने घुसपैठ के लिए बॉर्डर एक्शन टीम का इस्तेमाल किया

इससे पूर्व 23 फरवरी 2018 को पाकिस्तानी सेना ने भारतीय चौकियों पर हमला करने और घुसपैठ कराने के लिए बॉर्डर एक्शन टीम का इस्तेमाल किया था. इससे पहले साल 2017 में पाकिस्तान एलओसी से सटे जम्मू-कश्मीर के इलाकों में पांच बार भारतीय चौकियों पर हमला करने की कोशिश कर चुका है. इसमें भारतीय सेना ने सात घुसपैठियों को मार गिराया था. वहीं, दो भारतीय सैनिक शहीद हो गये थे. हालांकि फरवरी में हुए बैट के हमले में कोई नुकसान नहीं हुआ था. बता दें कि उरी आतंकी हमले के बाद सितंबर 2016 में भारत ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की थी और 40 से अधिक आतंकियों को मार गिराया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: