न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दर्दनाक : डम्पर और बोलेरो में जोरदार टक्कर, पांच की मौत, एक गंभीर रूप से घायल

घटना में मरे सभी लोग बिजली विभाग के कर्मचारी

360

Jamshedpur / Saryakela : डम्पर- बोलेरो की भिड़ंत में पांच लोगों की मौत हो गयी. वहीं एक गंभीर रूप से घायल हो गया. घटना टाटा सरायकेला मेन रोड की है. सरायकेला गेस्ट हाउस के पास यह दुर्घटना हुई. टक्कर इतनी जोरदार थी कि बोलेरो का आधा हिस्सा ट्रक के अंदर घुस गया.

इसे भी पढ़ें- “सिंह मेंशन को टेंशन” देने में पहली बार उछला ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ का नाम

काफी मशक्कत के बाद निकाले गए शव

hosp1

वहीं घटना के बाद लोग वहां पर पहुंचे और दो घायलों व एक मृतक को गाड़ी से बाहर निकाला. लेकिन गाड़ी में फंसे तीन और शवों को निकालने के लिए घंटो मशक्कत करनी पड़ी. गैस कटर के सहारे गाड़ी के कुछ हिस्सों को पहले काटा गया तब जाकर शवों को बाहर निकाला जा सका. पुलिस घटना की सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्ट के लिए भेज दिया.

इसे भी पढ़ें- ‘सरकार की कारगुजारियां उजागार करने वाले को देशद्रोही का तमगा देना बंद करें रघुवर सरकार’

सभी मृतक बिजली विभाग के कर्मचारी थे

बोलेरो में सवार लोगों में परेश नाथ चतंबा, अमित दूबे, गणेश महतो, शंकर लोहार के अलावा और दो लोग सवार थे. गंभीर रूप से घायल दोनों लोगों को सरायकेला सदर अस्पताल में प्राथमिक इलाज के बाद जमशेदपुर के एमजीएम अस्पताल रेफर कर दिया गया. जहां इजाल के दौरान एक और व्यक्ति की मौत हो गयी. वहीं बोलेरो के ड्रायवर का इलाज चल रहा है. बोलेरो में छह लोग सवार थे जिनमें एक ड्राइवर के अलावा सभी पांच लोग बिजली विभाग के कर्मचारी थे. ये सभी जमशेदपुर विद्युत विभाग में कार्यरत थे और चाईबासा विभाग के काम से गए थे. चाईबासा से टाटा लौटने के दौरान यह घटना घटी.

इसे भी पढ़ें- ग्राम न्यायालयों की स्थापना राज्य सरकार की जिम्मेदारी, केवल 9 राज्यों में 210 ग्राम न्यायालय ही कार्यरत

इसे भी पढ़ें- रांची में महामारी से अब तक तीन लोगों की मौत, जांच में मिले चिकनगुनिया के 27 व डेंगू के 2 मरीज

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: