JamshedpurJharkhand

Jamshedpur: बहरागोड़ा +2 उच्च विद्यालय में पैडबैंक की स्थापना,  बच्चियां निःशुल्क ले सकेंगी सैनिटरी पैड

माहवारी की प्रक्रिया, प्रजनन तंत्र की संरचना और हार्मोनल बदलाव के बारे में विस्तार से हुई चर्चा, दूर हुई बच्चियों की कई भ्रांतियां

Jamshedpur: इक्कसवीं शताब्दी में जहां दुनिया आधुनिक तकनीक से कदमताल कर रही, वही समाज आज भी माहवारी स्वच्छ्ता जैसे बुनियादी विषयों पर शर्म झिझक नहीं तोड़ पाया है. माहवारी के दौरान किशोरियों को बेहिसाब शारीरिक एवं मानसिक कष्ट से गुजरना पड़ता है. अब समुदाय को इस विषय पर अपने अंधविश्वास को तोड़कर किशोरियों को प्रोत्साहित करना होगा, ताकि वह अपनी शर्म झिझक मिटाकर माहवारी स्वच्छ्ता को अपना सके. यह बातें +2 उच्च विद्यालय, बहरागोड़ा के प्रधानाध्यापक मनीशधर द्विवेदी ने विद्यालय में सामाजिक संस्था निश्चय फाउंडेशन के द्वारा आयोजित माहवारी स्वच्छ्ता जागरूकता कार्यशाला के दौरान कही.

कार्यशाला के दौरान लगभग 35 गांवों से आई 200 से ज्यादा किशोरियों को माहवारी स्वच्छ्ता पर प्रशिक्षित किया गया. इस दौरान पैडमैन के नाम से मशहूर संस्था के संस्थापक सचिव तरुण कुमार ने किशोरियों को बताया कि समाज में बालक-बालिका सभी एक समान है. अब लड़कियां दुनिया के प्रत्येक क्षेत्र में बेहतर कर रही हैं. केवल प्रकृति ने बालक बालिकाओं की शारीरिक संरचना को अलग बनाया है. किशोर – किशोरियों को किशोरावस्था में अपने शरीर में हो रहे शारीरिक बदलावों के बारे में अवश्य जागरूक होना चाहिए. किशोरियों के लिए यह और भी अहम हो जाता है. कार्यक्रम के दौरान किशोरियों को विस्तार ने प्रजनन तंत्र की संरचना, माहवारी प्रक्रिया और हार्मोनल बदलाव के बारे में बताया गया. इससे बच्चियों की माहवारी को लेकर कई भ्रांतियां दूर हुई. कार्यशाला के दौरान लघु फिल्म “द बेस्ट गिफ्ट” एवं “कैंपेन ऑफ टफ टाइम” प्रदर्शित की गई. फिल्मों के माध्यम से बताया गया क‍ि माहवारी स्वच्छता के मुद्दे पर बच्चियों को आगे आना क्यों जरूरी है.

कोल्हान के 35 से ज्यादा विद्यालयों में पैडबैंक

Catalyst IAS
ram janam hospital

लगभग 3 घंटे तक चली कार्यशाला का समापन विद्यालय में पैडबैंक की स्थापना एवं माहवारी के प्रति शर्म झिझक तोड़ने की शपथ के साथ हुआ. विद्यालय के पैडबैंक में 100 पैकेट नैपकिन रखे गए हैं जिसका उपयोग बच्चियां आवश्यकतानुसार निशुल्क कर सकेंगी. पैडबैंक का संचालन विद्यालय की माहवारी स्वच्छता दूत जबी परवीन, जीनत परवीन, खुशबू कुमारी, मनीषा महतो, लवली मंडल, प्रत्याशा सत्पथी, तापसी पॉल एवम झरना नायक सामूहिक प्रयास से करेंगी. वही किशोरियों को अगले एक साल तक माहवारी स्वच्छता समेत महिला व बाल मुद्दों पर प्रशिक्षित किया जाएगा जिससे बच्चे अपनी सोच से समुदाय की सोच को नई दिशा दे सकें. बताते चले कि संस्था के द्वारा कोल्हान के 35 से ज्यादा विद्यालयों में माहवारी जागरूकता हेतु पैडबैंक मुहिम शुरू की गयी है.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

इनकी रही कार्यक्रम में मौजूदगी

मौके पर शिप्रा रावत, रीता दुबे, सविता टोप्पो, दीपिका भुइयां, राजा मंडल, बैद्यनाथ हांसदा समेत कई शिक्षक शिक्षिकाएं प्रमुख रूप से उपस्थित थी. कार्यक्रम के दौरान बच्चियों को जागरूकता संदेश एवं कॉमिक्स मुहैया कराया गया. कोल्हान के 35 से ज्यादा विद्यालयों में माहवारी जागरूकता हेतु पैडबैंक कार्यक्रम का संचालन डॉ कपिल प्रसाद ने किया.

ये भी पढ़ें-Jamsetji Tata Birth Anniversary: अपने संस्‍थापक को शि‍द्दत से याद कर रहा जमशेदपुर, टाटा संस के चेयरमैन ने कही ये बात

Related Articles

Back to top button