न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बापू के 150वीं जयंती वर्ष समारोह में युवाओं को जोड़ना हमारी प्राथमिकता- रघुवर दास

गांधी जी के विचार और दर्शन को नयी पीढ़ी तक पहुंचाना है- द्रौपदी मुर्मू

93

Ranchi: झारखंड में महात्मा गांधी की जयंती वर्ष पर ऐसे कार्यक्रम किए जाए, ताकि नयी पीढ़ी को महात्मा गांधी के विचारों और उनके योगदान को सही अर्थ में समझने और जानने का अवसर मिल सके. अधिक से अधिक युवाओं को जोड़ना हमारा उद्देश्य होना चाहिए. ऐसा कार्यक्रम जिसमें पूरे झारखण्ड की भागीदारी हो. ये बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कही. राजभवन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150वीं जयंती वर्ष समारोह के आयोजन की रुपरेखा को लेकर बैठक की गई. इस बैठक की अध्यक्षता राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने की.

इसे भी पढ़ेंःफाइलों में दफन हो गये 75000 करोड़ के एमओयू, अब 56000 करोड़ का निवेश भी अटका

युवा पीढ़ी को जागरुक करना है- राज्यपाल

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150वीं जयंती वर्ष समारोह को पूरे धूमधाम से मनाना है. इसमें हर किसी की भागीदारी सुनिश्चित करनी है. सालभर के आयोजन से गांधी जी के विचार और दर्शन को नयी पीढ़ी तक पहुंचाने में मदद मिलेगी. झारखंड के परिप्रेक्ष्य में महात्मा गांधी के जीवन का क्या महत्व है, इसपर काम करने की जरूरत है. ये सारी बातें राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने इस बौठक के दौरान कहीं.

साथ ही उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने गांव को विशेष महत्व दिया. हमें भी युवा पीढ़ी को जागरूक करना है. स्कूली बच्चों को इस आयोजन से जोड़ना चाहिए. बापू से संबंधित आर्ट, सेमिनार, वर्कशॉप आदि का आयोजन सालभर होता रहे. पदयात्रा, प्रभातफेरी, स्लोगन लेखन आदि को भी बढ़ावा देना चाहिए. राज्यपाल ने कहा कि ग्रामों में गांधी जी के दर्शन व चिंतन का व्यापक प्रचार-प्रसार हो तथा महिलाओं को भी इससे जोड़ें.

इसे भी पढ़ेंःललितपुर पावर प्लांट के कोयला ट्रांसपोर्टिंग मामले में ट्रांसपोर्टर पर FIR, जांच के घेरे में CCL के जीएम, पीओ व अन्य अधिकारी 

युवाओं की भागीदारी बढ़ानी है- सीएम

इस बैठक के दौरान मख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह वर्ष के लिए गठित कमेटी की सभी राजनीतिक दलों, गांधीवादी विचारधारा के लोगों, सामाजिक संस्थाओं, धर्मगुरुओं समेत अन्य लोगों की जल्द मुख्य बैठक होगी. इसमें सभी से सुझाव लिये जायेंगे. उस बैठक में एक वर्किंग कमेटी का गठन किया जायेगा. जो लगातार बैठकें कर आयोजन की रूपरेखा और उसके क्रियान्वयन को देखेगी.

इस दौरान रघुवर दास ने कहा कि झारखंड में महात्मा गांधी की जयंती वर्ष पर ऐसे कार्यक्रम किए जाए. ताकि नयी पीढ़ी को महात्मा गांधी के विचारों और उनके योगदान को सही अर्थों में समझने और जानने का अवसर मिल सके. अधिक से अधिक युवाओं को जोड़ना हमारा उद्देश्य होना चाहिए.ऐसा कार्यक्रम जिसमें पूरे झारखण्ड की भागीदारी हो.

इसे भी पढ़ेंःसीएम चाचा रोज ही लुटती है हमारी इज्जत, कभी मालिक तो कभी साहेब रात में नोचते हैं, बचाइए ना हमें
बैठक में विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव समेत कई माननीयों ने अपने सुझाव दिये. राजभवन में हुई इस बैठक में मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, राज्यपाल के प्रधान सचिव नीतिन मदन कुलकर्णी, गृह विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल, पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन एवं पुलिस मुख्यालय के महानिदेशक पी.आर.के. नायडू, नगर विकास सचिव अजय कुमार सिंह, कला संस्कृति विभाग के सचिव राहुल शर्मा, पर्यटन निदेशक संजीव बेसरा समेत अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: