Palamu

कार्तिक पूर्णिमा पर कोयल तट पर महागंगा आरती का आयोजन

Palamu : गंगा हो या कोयल किसी भी नदी को स्वच्छ रखना हम सभी का दायित्व है. यदि कोयल स्वच्‍छ होगा तो गंगा भी स्वच्‍छ होगी. उक्त बातें पूर्व विधानसभा अध्यक्ष इंदर सिंह नामधारी ने कही. वे शुक्रवार को मेदिनीनगर  संकट मोचन दल द्वारा कार्तिक पूर्णिमा महोत्सव के पावन अवसर पर कोयल तट पर आयोजित महागंगा आरती के कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. इसके पूर्व हजारों की संख्या में गंगा आरती में शामिल होने पहुंचे शहर के महिला-पुरूष के साथ कोयल नदी की पूजा अर्चना की व गंगा आरती में शामिल हुए.

कोयल तट की स्वच्‍छता बरकरार रहे

Catalyst IAS
ram janam hospital

भक्तिमय वातावरण के बीच गंगा आरती में श्रद्धालुओं ने हजारों दीप जलाकर मां गंगा के समर्पित किया. जिससे कोयल तट दीपक की रोशनी से जगमगा उठा. अपने संबोधन में नामधारी ने कहा कि गंगा जैसी हर नदी स्थानीय लोगों के लिए पूजनीय है. उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि गंगा आरती के इस पावन अवसर पर हम सभी को यह संकल्प लेना चाहिए कि कोयल तट की स्वच्‍छता बरकरार रहे. इसमें सब की भागीदारी सुनिश्चित होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि शीघ्र ही मंडल डैम में कार्य प्रारंभ होगा. मंडल डैम बन जाने के बाद कोयल नदी में सालों भर जल की अविरल धारा बहती रहेगी. उन्होंने संकट मोचन दल के कार्यकर्ताओं को महागंगा आरती के आयोजन पर बधाई दी.

The Royal’s
Sanjeevani

हर कार्तिक पूर्णिमा पर होता महागंगा आरती का आयोजन

जानकारी के अनुसार मेदिनीनगर के कोयल तट पर प्रत्येक वर्ष कार्तिक पूर्णिमा महोत्सव के साथ-साथ महागंगा आरती का आयोजन किया जाता है. जहां हजारों की संख्या में शहरवासी पहुंचते हैं. गंगा आरती के साथ लोग यहां कोयल नदी की विशेष पूजा अर्चना भी करते हैं. यह परंपरा अब धीरे-धीरे और तेज होने लगी है. कोयल तट पर गंगा आरती में लोगों की संख्या प्रत्येक वर्ष बढ़ती ही जा रही है. गंगा आरती के आयोजन में संकट मोचन दल के राजू गिरी, शंभू पासवान, नंद किशोर गिरी एवं विश्वेश्वर गिरी की अहम भूमिका रही.

Related Articles

Back to top button