Jamshedpur

संस्था मिशन एक प्रहार  बच्चों को सेल्फ डिफेंस का दे रहा निः शुल्क प्रशिक्षण

Jamshedpur : नवरात्र के दिन को स्त्री शक्ति का प्रतीक भी माना गया है. नवरात्रि में विशेषकर नारी शक्ति को सम्मान किया जाता है. कुछ इसी तरह के नारी शक्ति परसूडीह मकदमपुर समेत कई क्षेत्रों में भी देखने को मिल रहा है. समाजसेवी  रितिका श्रीवास्तव  ने  पिछले  डेढ़ साल से  संस्था मिशन एक प्रहार के माध्यम से  ग्रामीण व गरीब परिवार के बच्चों को निः शुल्क रूप से सेल्फ डिफेंस तथा ताइक्वांडो की हुनर सिखाने का काम कर रही है. सेल्फ डिफेंस सिखाने के लिए संस्था की ओर से महिला प्रशिक्षक भी रखा गया है. समाजसेवी ने बताया कि  उनका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को  सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना है.

65 से बढ़कर बच्चों की संख्या हुई 800

Catalyst IAS
ram janam hospital

शुरू में 65 से 70 बच्चों से प्रशिक्षण शुरू किया गया था. वहीं अब 800 बच्चों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. प्रशिक्षण  प्रत्येक शनिवार और रविवार को दिया जाता है. शुरू में प्रशिक्षण केंद्र केवल परसूडीह में ही खोला गया था. एक साल से आदित्यपुर, विष्टूपुर, बागबेड़ा, सीपी टोला, डिमना के क्षेत्रों में चलाया जा रहा है. प्रशिक्षण में सीखे बच्चे ताइक्वांडो डिस्टिक चैंपियनशिप में हिस्सा ले चुके हैं. साथ ही मेडल भी जीता है.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें- भालूबासा में कबाड़ बन चुकी कार में लगी आग, लोगों की सूझ-बूझ से बड़ी घटना टली

 

Related Articles

Back to top button