JharkhandLead NewsRanchi

धौनी के फार्म की ऑर्गेनिक सब्जियां पहुंचीं बाजार, दूध भी बेच रहे मिस्टर कूल

विज्ञापन
  • ईजा फार्म की तरफ से बेची जा रही हैं सब्जियां,

Ranchi : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के रांची स्थित फार्म से उत्पादित सब्जियां और दूध अब बाजार में मिलने लगे हैं. ईजा फॉर्म की तरफ से सब्जियां बेची जा रही है. अभी टमाटर उपलब्ध है. ये टमाटर 40 रुपये किलो की दर से बिक रहा है. ये पूरी तरह से ऑर्गेनिक सब्जियां है. इनके प्रचार के लिए जो पोस्टर लगे हैं उसमें लिखा है- गोबर खाद की ताजी सब्जियां और गाय का शुद्ध दूध.

इसे भी पढ़ें: Chatra : माओवादी कमांडर के अंतिम संस्कार में जुटी हजारों की भीड़

अभी टमाटर आया, बंदगोभी, बींस, फूलगोभी और ब्रोकली भी मिलेगी

फिलहाल धौनी के फॉर्म में उपजायी गई सब्जियों की मार्केटिंग व्यवसायी शिव नंदन संभाल रहे हैं. वे बताते हैं कि कुछ महीने पहले एक दिन धौनी साहब ने मिलने बुलाया. उन्होंने कहा कि फार्म में सब्जियां और दूध का उत्पादन हो रहा है इसकी मार्केटिंग करनी है. ना करने का सवाल ही नहीं था. इसके बाद एग्रीमेंट तय हुआ और सब्जियां बिकनी शुरू हो गयी. अभी 80 किलो टमाटर आये हैं. ज्यादतर बिक गए हैं. एक हफ्ते बाद बंदगोभी, बींस, फूलगोभी भी आनेवाले है. आने वाले 15 दिनों में स्ट्राबेरी भी तैयार हो जायेंगे. ब्रोकली भी तैयार हो जायंगे.

इसे भी पढ़ें: कॉमेडियन भारती सिंह और उसके पति हर्ष लिंबाचिया को मिली बेल

दूध 55 रुपये लीटर बेचा जा रहा है

इसके अलावा दूध की भी अच्छी बिक्री हो रही है. दूध 55 रुपये लीटर बेचा जा रहा है. धौनी के फैन के अलावा बाकी लोग भी इन्हें पसंद कर रहे हैं. अभी ये उत्पाद अपर बाजार, लालपुर, वर्द्धमान कंपाउंड में बिक रहे हैं. इसके अलावा पीपी कंपाउंड में भी जल्दी ही इन उत्पाद के काउंटर खुलनेवाले है.

कड़कनाथ मुर्गे का भी व्यवसाय किया है शुरू

गौरतलब है कि महेंद्र सिंह धौनी क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं. वे अपने मिजाज के मुताबिक ही शहर की भीड़भाड़ से दूर सिमलिया स्थित फॉर्म हाउस में रह रहे हैं. अब वे खेती में भी हाथ आजमा रहे हैं और इसमें उन्हें खासी सफलता मिली है. बीच में खबर आयी थी कि वे कड़कनाथ मुर्गे का भी व्यवसाय करनेवाले हैं उन्होंने शुररुआत में दो हजार चूजे भी मंगा लिए हैं.

इसे भी पढ़ें: अमेजन और फ्लिपकार्ट के साथ सांठगांठ का आरोप…आरबीआई से इन बैंकों की शिकायत…

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: