न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आरएसएस पर प्रतिबंध का आदेश ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ के नीचे लगाया जाना चाहिए : कांग्रेस

संगठन को प्रतिबंधित करने के सरदार वल्लभभाई पटेल के 1948 के आदेश को उनकी विशालकाय प्रतिमा ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ के नीचे लगाया जाना चाहिए

80

Pune : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का नाम लिये बिना सोमवार को कहा कि, संगठन को प्रतिबंधित करने के सरदार वल्लभभाई पटेल के 1948 के आदेश को उनकी विशालकाय प्रतिमा ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ के नीचे लगाया जाना चाहिए. जिसका अनावरण गुजरात के नर्मदा जिले में जल्द किया जाएगा. शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए उल्लेख किया कि यह कदम लोगों को बताएगा कि देश के प्रथम गृहमंत्री उनके (आरएसएस) बारे में क्या सोचते थे.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में स्टार्ट अप के लिए अब तक सरकार से किसी को नहीं मिली है मदद

आदेश को प्रतिमा के नीचे लगाया जाना चाहिए

उन्होंने कहा कि,  आरएसएस और भाजपा के अपने नायक नहीं हैं. इसलिए वे सरदार पटेल की ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ बना रहे हैं और वह भी चीन में निर्मित है. साथ ही कहा कि महात्मा गांधी की हत्या के बाद पटेल का 1948 में लिखित एक आदेश है. उस आदेश को प्रतिमा के नीचे लगाया जाना चाहिए ताकि देश को उनके बारे में पटेल की सोच का पता चले.

हालांकि वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने आरएसएस का नाम नहीं लिया, लेकिन उनका इशारा परोक्ष रूप से गांधी की हत्या के बाद संगठन पर लगाये गए प्रतिबंध की ओर था, जिसे बाद में हटा लिया गया था.

इसे भी पढ़ें – रघुवर सरकार ने माओवादी व टीपीसी को धन मुहैया कराने वाले रघुराम रेड्डी के खिलाफ नहीं की कार्रवाई

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: