न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विपक्ष ने कहा- पारा शिक्षकों को वार्ता के नाम पर धमका रही सरकार, मंत्री बोलीं- विपक्ष मुद्दे को दे रहा हवा

118

Ranchi : झारखंड विधानसभा में बुधवार को पारा शिक्षकों का आंदोलन छाया रहा. सदन की कार्यवाही शुरू होते ही राजमहल विधायक राजकुमार यादव ने कहा कि जिस तरह से सरकार ने पारा शिक्षकों को वार्ता के लिए प्रेस वार्ता के माध्यम से संदेश दिया है, वह तरीका सही नहीं था. वार्ता से ज्यादा सरकार ने पारा शिक्षकों को धमकी देने का कार्य किया है. वार्ता के साथ पारा शिक्षकों को अल्टीमेटम दिया जाना किसी रूप में सही नहीं था. वहीं, जेएमएम के कई विधायक पारा शिक्षकों के मुद्दे पर सरकार पर जमकर बरसे. विधायक जगरनाथ महतो ने कहा कि सरकार की गलत नीति के कारण पारा शिक्षकों का आंदोलन उग्र हो गया. इसमें 10 पारा शिक्षकों की जान गयी. वर्तमान सरकार पारा शिक्षकों की हत्या करने की साजिश रच रही है.

पारा शिक्षकों के आंदोलन को हवा दे रहा है विपक्ष : शिक्षा मंत्री

शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने कहा कि पारा शिक्षकों के साथ वार्ता के बाद ही कोई समाधान निकलकर समाने आयेगा. मुख्यमंत्री पारा शिक्षकों के प्रति संवेदनशील हैं तथा उनके प्रयास से पारा शिक्षकों के आंदोलन को खत्म करने की पहल की जा रही है. विपक्षी पार्टियां पारा शिक्षकों के मुद्दे को हवा देकर सदन को सुचारू रूप से नहीं चलने दे रही हैं. विपक्ष में बैठे नेताओं ने लंबे समय तक सरकार चलाया है, लेकिन उनके द्वारा पारा शिक्षकों के मुद्दों का समाधान नहीं किया गया, लेकिन वर्तमान में चार सालों से रघुवर सरकार ने इस दिशा में काफी पहल की है. जेटेट पास शिक्षकों को स्थायी प्रक्रिया में शामिल किये जाने से लेकर अन्य मांगों पर सरकार ने गंभीरतापूर्वक पहल की है. उम्मीद है कि पारा शिक्षकों का आंदोलन वार्ता के बाद समाप्त कर लिया जायेगा.

पारा शिक्षकों ने मंत्री एवं विधायकों को दिया फूल

वेतनमान एवं स्थायीकरण की मांग को लेकर पारा शिक्षक आंदोलनरत रहे हैं. इसी क्रम में पारा शिक्षकों का प्रतिनिधिमंडल बुधवार को झारखंड विधानसभा पहुंचा एवं मांगों के संदर्भ में साक्ष्य के साथ गुलाब फूल विभागीय मंत्री सहित सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के दर्जनों विधायकों को प्रदान किया गया. शिक्षा मंत्री नीरा यादव, बीजेपी विधायक राधाकृष्ण किशोर, विधायक शिव शंकर उरांव, ताला मरांडी, ढुल्लू महतो, अनंत ओझा, नवीन जायसवाल आलोक चौरसिया, कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, विधायक मनोज यादव, माले विधायक राजकुमार यादव आदि को पारा शिक्षकों ने अपने आंदोलन के समर्थन में गुलाब फूल दिये. इस दौरान पारा शिक्षकों की राज्य इकाई के विनोद बिहारी महतो, संजय दुबे, सिंटू सिंह, दशरथ ठाकुर, बेलाल अहमद आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- विस में पारा शिक्षकों को लेकर रार, सत्ता कहता ध्यानकर्षण में करेंगे बात, विपक्ष की मांग कार्यस्थगन…

इसे भी पढ़ें- चार सालों में रघुवर सरकार ने अपने प्रचार-प्रसार में खर्च किए तीन अरब रुपए

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: