न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एग्जिट पोल से विपक्ष में जान लौटी, 10 को दिल्ली में जुटेंगे मोदी विरोधी, एकजुटता दिखायेंगे

25

NewDelhi : पांच राज्यों के एग्जिट पोल सर्वे से कांग्रेस गदगद है. सर्वे में भाजपा की हार और कांग्रेस की वापसी की आशा में पूरा विपक्ष उत्साह से लबरेज है. उत्साहित विपक्ष भाजपा के खिलाफ सभी दलों को एकजुट करने की कवायद में लगा है. 10 दिसंबर का दिन विपक्ष के लिए खासा अहम है. बता दें कि इस दिन दिल्ली में विपक्षीदल अपना शक्ति प्रदर्शन करने वाले हैं. पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम आने से ठीक एक दिन पूर्व विपक्षी दल एकजुटता दिखाने के लिए दिल्ली में शक्ति प्रदर्शन करेंगे. लंबे समय से विपक्ष नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी का मुकाबला करने की कवायद कर रहा है, लेकिन अब तक वह  कामयाब नहीं हुआ है. ममता बनर्जी और चंद्रबाबू नायडू समेत कई विपक्षी नेता अपने-अपने स्तर पर विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश करते रहे हैं, लेकिन इस विधानसभा चुनाव के बाद शायद विपक्ष् केमजबूत होने की बात कही जा रही है. सर्वे के आने के बाद से एक ओर जहां विपक्ष को आगे की लड़ाई के लिए एकजुट होने का मौका मिल गया है. सर्वे के आधार पर ही परिणाम भी आया तो भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए को अपना कुनबा बचाना मुश्किल होगा.

 11 दिसंब से संसद का शीतकालीन सत्र भी शुरू हो रहा है. शीतकालीन सत्र सरकार पर भारी पड़ सकता है. सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठक करेगी. खबरों के अनुसार  बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन भी दिल्ली में रहेंगे. वे इस अहम बैठक में शामिल हो सकते हैं. विपक्षी दलों की  बैठक में तेलुगु देशम पार्टी भी शामिल हो सकती है.बैठक में 19 दलों के नेताओं के भाग लेने की बात कही जा रही है.

 विधानसभा चुनाव में बाजी कांग्रेस के हाथ

लोकसभा चुनाव से पूर्व सेमीफाइनल माने जा रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में बाजी कांग्रेस के हाथ में जाती दिख रही है.  इंडियाटुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल सर्वे के नतीजों के अनुसार  230 सदस्यीय मध्य प्रदेश विधानसभा में भाजपा 102 से 120 सीट पर जीत हासिल कर सकती है. कांग्रेस को मामूली बढ़त के साथ 104 से 122 सीटें मिलने का अनुमान है. एग्जिट पोल के आंकड़े बताते हैं कि 90 सदस्यीय छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस को 55 से 65 सीटों परजीत हासिल होने जा रही है तो भाजपा को 21 से 31 सीटें मिलेंगी.  पोल के अनुसार छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को 45% तो भाजपा  को 38% वोट शेयर मिलने जा रहा है. जस्थान में 199 (200 विधानसभा)सीट में कांग्रेस के खाते में 119 से 141 सीटें जारही हैं.  एग्जिट पोल के अनुसार भाजपा  को 55 से 72 सीटों पर जीत हासिल हो सकती है.

119 सदस्यीय तेलंगाना विधानसभा में केसीआर की पार्टी को 79 से 91 सीट  तथा कांग्रेस और आंध्र के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की पार्टी तेलुगु देशम का गठबंधन सिर्फ 21 से 33सीटों पर ही जीत हासिल कर सकता है. उत्तर-पूर्व के आठ राज्यों में अकेला मिजोरम ही कांग्रेस के किले के तौर पर बचा था. अब यह किला भी दरकने जा रहा है.एग्जिट पोल के आंकड़ों के अनुसार  मिज़ोरममें विपक्षी मिजो नेशनल फ्रंट (MNF) सत्तारूढ़ कांग्रेस को सत्ता से बाहरकरता दिख  रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: