न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड बंद को लेकर विपक्षी दलों ने चलाया जनसंपर्क अभियान, आम लोगों से मांगा समर्थन

616

Ranchi : भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के खिलाफ पांच जुलाई को बुलाये गये झारखंड बंद को सफल बनाने के लिए विपक्ष ने आम लोगों से सहयोग की अपील की है. इसे लेकर विपक्षी दलों ने सोमवार को शहर के विभिन्न इलाकों में जनसंपर्क अभियान चलाया. अभियान में झाविमो, कांग्रेस,  झामुमो,  सीपीआई सहित सीपीआई (एम) के नेता मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- पांच जुलाई के झारखंड बंद के दौरान उपद्रव करनेवालों से सख्ती से निपटेगा प्रशासन

चैंबर सहित कई संघों-संगठनों से मिलकर की सहयोग की अपील

मालूम हो कि सरकार के भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के खिलाफ विपक्षी पार्टियों ने पांच जुलाई को झारखंड बंद का आह्वान किया है. इसे सफल बनाने के लिए विपक्षी दलों के प्रमुख पदाधिकारियों/कार्यकर्ताओं ने सोमवार को शहर के मुख्य इलाकों में जनसंपर्क अभियान चलाया. इस दौरान नेताओं ने विभिन्न व्यापारिक संगठनों,  चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष रंजीत गाड़ोदिया,  फुटपाथ दुकानदार संघ,  टेम्पो-रिक्शा चालक संघ,  ट्रक-बस ओनर एसोसिएशन,  डेली मार्केट दुकानदार संघ, रिफ्यूजी मार्केट सहित दर्जनों व्यापारिक संगठनों से मिलकर हस्ताक्षरित पत्र सौंपा. इस दौरान उन्होंने बंद को सफल बनाने में संगठनों से समर्थन भी मांगा.

इसे भी पढ़ें- 100 नहीं 200 फीसदी सफल होगी 5 जुलाई की बंदी: हेमंत सोरेन

अभियान में ये नेता थे शामिल

जनसंपर्क अभियान में मुख्य रूप से झाविमो के केंद्रीय सचिव राजीव रंजन मिश्रा, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता शमशेर आलम, डॉ राजेश गुप्ता (छोटू), झामुमो नेता अंतु तिर्की, मुस्ताक आलम, सीपीआई के अजय सिंह, सीपीआई (एम) के भुवनेश्वर केवट, नदीम खान, मासस के सुशांतो मुखर्जी,  झाविमो नेता जितेंद्र वर्मा, शुचिता सिंह, शिवा कच्छप, पंकज पांडेय, दीपू गाड़ी, भीम शर्मा,  राकेश सिंह,  नेहा सिंह,  कांग्रेस नेता उमर खान,  फैयाज साह,  सहित सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

mi banner add

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: