न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एग्जिट पोल पर भड़का विपक्षः कांग्रेस ने नकारा तो ममता ने कहा- अटकलबाजी

877

New Delhi/Kolkata: लोकसभा चुनाव 2019 के जो भी एग्जिट पोल सामने आये हैं. उनमें बीजेपी और एनडीए को बहुमत मिलता दिख रहा है.

अगर रिजल्ट भी इन एग्जिट पोल के अनुरूप आये तो मोदी सरकार की फिर सत्ता में वापसी होगी. लेकिन विपक्ष इस एग्जिट पोल को नकार रहा है.

Sport House

एग्जिट पोल अटकलबाजी- ममता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने एग्जिट पोल को अटकलबाजी करार देते हुए कहा कि उन्हें ऐसे सर्वेक्षणों पर भरोसा नहीं.

इसे भी पढ़ेंःExit Polls 2019 : भाजपा फिर से बना सकती है सरकार, एनडीए को 300 से ज्यादा सीटें मिलने के आसार  

क्योंकि इस रणनीति का इस्तेमाल ईवीएम में गड़बड़ी करने के लिए किया जाता है. बनर्जी ने ट्वीट किया, “मैं एग्जिट पोल के कयासों पर भरोसा नहीं करती. यह रणनीति अटकलबाजी के जरिए हजारों ईवीएम को बदलने या उनमें हेरफेर करने के लिए प्रयुक्त होती है. मैं सभी विपक्षी पार्टियों से एकजुट, मजबूत और साहसी रहने की अपील करती हूं.”

Mayfair 2-1-2020

कुछ एग्जिट पोल पश्चिम बंगाल में टीएमसी को 24 सीटें, भाजपा को 16 और कांग्रेस को दो सीट मिलने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है. इन सर्वेक्षणों में वाम मोर्चे के खाते में एक भी सीट नहीं दिखाई गई है.

Related Posts

राज ठाकरे के बाद #Shiv_Sena ने भी कहा, बांग्लादेशी और पाकिस्तानी घुसपैठियों को बाहर निकाला जाना चाहिए

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी ने कहा, सावरकर और बालासाहेब के हिंदुत्व के मुद्दे को लेकर चलना बच्चों का खेल नहीं है.  फिर भी अगर कोई हिंदुत्व की बात कर रहा है तो हमारे पास उसका स्वागत करने की दिलदारी है.

इधर बंगाल भाजपा ने बनर्जी के बयान पर तुरंत प्रतिक्रिया देते हुए उनसे सपनों की दुनिया से बाहर निकलने को कहा. पार्टी ने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस सरकार के दिन गिनती के रह गए हैं.

इसे भी पढ़ेंःरघुवर सरकार के प्रति बढ़ते रोष का संकेत है 70 प्रतिशत से अधिक मतदान :  जेएमएम

कांग्रेस ने दावे को नकारा

कांग्रेस के शशि थरूर ने दावा किया कि एग्जिट पोल गलत होते हैं. उन्होंने अपनी बात सही साबित करने के लिये ऑस्ट्रेलिया के चुनाव का हवाला दिया, जहां कई एग्जिट पोल गलत साबित हुए.

कांग्रेस के प्रवक्ता संजय झा ने कहा कि शांत मतदाता ही 23 मई को राजा साबित होंगे. भाकपा के डी राजा ने भी पूर्वानुमान को खारिज करते हुए कहा कि ये सिर्फ ट्रेंड भर हैं.

हालांकि कांग्रेस की सहयोगी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा कि सारे एग्जिट पोल गलत नहीं हो सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘सारे एग्जिट पोल गलत नहीं हो सकते हैं. यह टीवी बंद करने, सोशल मीडिया से लॉग आउट करने का समय है तथा यह देखना है कि क्या 23 मई के बाद दुनिया अपनी धुरी पर अभी भी घूम रही है.’’

इसे भी पढ़ेंःसिंगापुर जा रहे विमान को आपात स्थिति में चेन्नई में उतरा गया, सभी यात्री सुरक्षित

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like