lok sabha election 2019

विपक्ष ने चुनाव आयोग से की मांग- VVPAT पर्चियों की हो जांच

New Delhi: कांग्रेस, एसपी, बीएसपी, तृणमूल कांग्रेस समेत 22 विपक्षी दलों के सदस्यों ने मंगलवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की. विपक्ष ने चुनाव आयोग से मांग की है कि 23 मई को मतगणना शुरू होने से पहले बिना किसी क्रम के चुने गये पोलिंग स्टेशनों पर वीवीपीएटी पर्चियों की जांच की जाये. उधर, चुनाव आयोग ने बयान जारी कर स्ट्रांग रूम्स में रखे गए EVMs की सुरक्षा को लेकर जाहिर की जा रही तमाम आशंकाओं को खारिज कर दिया है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें – मतगणना की तैयारियां पूरी, फाइनल गिनती 21 राउंड तक चलेगी

विपक्षी दलों ने कहा है कि अगर किसी एक बूथ पर भी वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान सही नहीं पाया जाता तो संबंधित विधानसभा क्षेत्र में सभी मतदान केंद्रों की वीवीपीएटी पर्चियों की गिनती की जाये और इसका ईवीएम रिजल्ट से मिलान किया जाये. चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पत्रकारों से कहा कि हमने मांग की है कि वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान पहले किया जाये और अगर कोई गलती मिले तो उस क्षेत्र में सभी की गिनती होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें – महेश पोद्दार ने JBVNL को दिखाया आईना, कहा- बिजली पर्याप्त, डिस्ट्रीब्यूशन ठीक नहीं, लोड बढ़ना और कम उत्पादन सिर्फ बहाना

Samford

EC ने कहा, स्ट्रांग रूम में EVM सुरक्षित

चुनाव आयोग ने बयान जारी कर मंगलवार को कहा कि स्ट्रांग रूम में ईवीएम पूरी तरह से सुरक्षित हैं. इसके साथ ही आयोग ने चुनावों में इस्तेमाल वोटिंग मशीनों की अदला-बदली की आशंकाओं और आरोपों को भी सिरे से खारिज कर दिया है.

इसे भी पढ़ें – समीक्षा बैठक में बोले सीएम रघुवर दास – 30 लाख नए कनेक्शन से बिजली की खपत बढ़ी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: