न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कीर्ति आजाद को रिजेक्टेड कहे जाने का विरोध, खिलाड़ियों में सीएम के प्रति रोष

धनबाद के मनई टाड में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए अंडर-19 टीम के पूर्व कप्तान आदित्य वर्मा ने कहा कि कीर्ति आज़ाद ही नहीं बल्कि सभी खि‍लाड़ी देश की शान है

66

Dhanbad :  कीर्ति आजाद को रिजेक्टेड  कहे जाने पर धनबाद के  खि‍लाड़ियों  में रोष है. इस संबंध में धनबाद के मनई टाड में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए अंडर-19 टीम के पूर्व कप्तान आदित्य वर्मा ने कहा कि कीर्ति आज़ाद ही नहीं बल्कि सभी खि‍लाड़ी देश की शान है ,जो हमारे देश का नाम  रोशन करते है.. चाहे वह खि‍लाड़ी  किसी भी खेल से हों.  हम सबको उनपर गर्व है. आदित्य वर्मा ने कहा कि झारखंड के मुख्य मंत्री रघुवर दास जी ने कीर्ति आज़ाद को रिजेक्टेड बोल कर सभी खि‍लाड़ियों का अपमान किया है.  किसी भी क़ीमत पर यह बयान खिलाड़ी बरदास्त नहीं करेंगे. आदित्य ने कहा कि राजनीति अवश्‍़य करें लेकिन भाषा संयमित और मर्यादित होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें –  लोकसभा चुनाव : अतिआत्मविश्वास हो सकता है कांग्रेस के लिए घातक, भितरघात से बढ़ेगी पार्टी की मुश्किलें

रघुवर दास ने धनबाद में खेल के क्षेत्र में कोई भी विकास  कार्य नहीं किया

कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने धनबाद में खेल के क्षेत्र में कोई भी विकास का कार्य नहीं किया है. जबकि झारखण्ड राज्य क्रिकेट संघ और धनबाद ज़िला क्रिकेट संघ ने सरकार से कई बार ज़मीन उपलब्ध कराने की मांग की थी ,लेकिन आज तक सरकार ने खि‍लाडियो के लिए जमीन उपलब्ध करना तो दूर कोई सकारात्मक प्रयास भी नहीं किया.  जबकी धनबाद में लगभग 2000 पंजीकृत खि‍लाड़ी हैं.  लेकिन सभी मूलभूत सुविधा से भी वंचित है. जब सरकार खि‍लाडियों को सुबिधा या सम्मान नहीं दे सकती तो उसे अपमानित करने का भी कोई हक़ नहीं है , पूरे राज्य में सिर्फ़ एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट स्टेडि‍यम है , वह भी रांची में ,जो अमिताभ चौधरी जी की  देन है .

आदित्य वर्मा  ने कहा कि धनबाद आर्थिक रूप से मज़बूत है लेकिन खि‍लाडियों की सुबिधा के नाम पर शून्य है.  इस वजह से आज युवाओं में खेल के प्रति रुचि कम होती जा रही है. एक वक़्त था जब राज्य की टीम में, हर वर्ग में धनबाद से 4-5 खि‍लाड़ी हुआ करते थे लेकिन आज शायद ही किसी टीम में धनबाद के खि‍लाडियो को मौक़ा मिल पाता है.. यहां की सरकार ना तो खेल को बढ़ावा दे रही है और ना ही खेलाड़ियों को किसी प्रकार की सुबिधा. प्रेस वार्ता में मोईन अख़्तर, महेबूब मनिहार, शरीक खान, सामी खान, ज़िशान अली, मो शाकीब आदि खिलाड़ी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – गिरिराज के बयान पर गरमायी सियासत, तेजस्वी का BJP प्रत्याशी के बहाने नीतीश पर वार

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: