JharkhandRanchi

रिम्स और निजी अस्पतालों की ओपीडी सेवा हो शुरू, संथाल और पलामू डिविजन में भी खुले कोरोना जांच केंद्र : भाजपा

विज्ञापन

Ranchi : रिम्स सहित राज्य के कई अस्पतालों में ओपीडी सेवा चालू कराने की मांग प्रदेश भाजपा ने राज्य सरकार से की है. भाजपा के अनुसार ओपीडी सेवा नहीं मिलने से बड़ी संख्या में विभिन्न बीमारियों से जूझ रहे रोगियों के सामने परेशनी खड़ी हो गयी है. पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने सरकार से मांग करते हुए कहा है कि किडनी रोग से ग्रसित रोगियों को डायलिसिस की सुविधा मिलने में बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

ह्रदय, किडनी, लिवर, कैंसर जैसे बड़े रोगों से जूझते मरीजों के लिए भी विशेष स्वास्थ्य सुविधाएं अभी अस्पतालों में मुहैया कराई जानी चाहिये. देवघर और गढ़वा में कोरोना का केस सामने आने के बाद संथाल और पलामू प्रमंडल में भी जांच केंद्र खोले जाने की मांग उन्होंने की है.

इसे भी पढ़ेंः #CoronaOutbreak : प. बंगाल में 24 घंटे में 58 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये

advt

अस्पतालों में ओपीडी सेवा में बरती जाये सावधानी

प्रतुल शाहदेव के अनुसार वर्तमान में कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे का माहौल है. ऐसे में  कोरोना के कारण संक्रमण के फैलने का सबसे ज्यादा खतरा अस्पतालों में होता है. अतः सरकार को तमाम एहतियाती कदम उठाते हुए ओपीडी को अविलंब चालू करवाना चाहिये.

राज्यभर में सरकारी और निजी अस्पतालों में भी जरुरतमंद लोगों को ओपीडी सेवा नहीं मिल पा रही है. ऐसे में रिम्स समेत तमाम बड़े सरकारी और निजी अस्पतालों की ओपीडी सेवा को चालू करवाने में सरकार गंभीरता से पहल करे.

इसे भी पढ़ेंः #CoronaUpdates: 24 घंटे में संक्रमण के 1409 नये केस, देश के 78 जिले कोरोना मुक्त

कोविड-19 टेस्ट के बैकलॉग को करें दूर 

प्रतुल के अनुसार अभी रिम्स से कोविड-19 के जांच रिपोर्ट आने में 4 से 5 दिन का समय लग रहा है. यह अनेक मामलों में जानलेवा साबित हो सकता है. इतने दिनों के बाद रिपोर्ट के आने के कारण संक्रमण की चेन के आगे बढ़ने का भी खतरा बढ़ रहा है.

adv

राज्य सरकार को अविलंब इस बैकलॉग को समाप्त करने के लिए रिम्स की देखरेख में सभी मापदंड को पूरा करने वाले प्राइवेट लैबोरेट्रीज में भी जांच की अनुमति देनी चाहिए. हालांकि निजी लैब को सरकार की तय रेट पर जांच करने को तैयार किया जाये. इस कदम से बैकलॉग को दूर करने में बड़ी सहायता मिलेगी.

संथाल और पलामू प्रमंडल में खुले जांच केंद्र

प्रदेश भाजपा के अनुसार अब संथाल परगना और पलामू प्रमंडल से भी कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं. फ़िलहाल इन दोनों जगहों पर सरकार की तैयारियां बिल्कुल भी नहीं हैं. इन दोनों प्रमंडलों में कोई जांच केंद्र भी नहीं है. राज्य सरकार को इन प्रमंडलों में भी जांच केंद्र की व्यवस्था करने और अन्य जरुरी इंतज़ाम करना चाहिये.

इसे भी पढ़ेंः गिरिडीह : महिला से दुर्व्यवहार मामले में गांवा थाना प्रभारी श्रीकांत ओझा सस्पेंड, वीडियो हुआ था वायरल

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button