JharkhandRanchi

डाकघरों में मिल रहा केवल #Gangotri का #Gangajal, मिलना था #Haridwar व #Rishikesh का भी

Ranchi : आम लोगों को सुलभता से गंगाजल उपलब्ध हो इसके लिए डाक विभाग ने डाकघरों में गंगाजल बेचने की योजना की शुरुआत की थी.

इस योजना के तहत डाकघरों में गंगोत्री, हरिद्वार और ऋषिकेश का गंगाजल उपलब्ध कराना था. रांची के डाकघरों में अभी केवल गंगोत्री का गंगाजल की मिल रहा है.

गंगोत्री का गंगाजल डाक विभाग अपने ब्रांड से बेचता है. अब रांची में हरिद्वार और ऋषिकेश का गंगाजल नहीं मिल रहा है.

advt

इसे भी पढ़ें : जानिए, बकोरिया कांड, CID जांच, #CBI जांच, पूर्व DGP डीके पांडेय और ज्वाइंट डायरेक्टर अजय भटनागर में क्या है रिश्ता

जीपीओ, मेन रोड व डोरंडा में मिल रहा गंगाजल

इस संबंध में रांची जीपीओ के वरिष्ठ डाक अधीक्षक संजय गुप्ता ने बताया कि लोगों के बीच गंगाजल की खरीदारी को लेकर मांग बरकरार है.

योजना की शुरुआत में अलग-अलग कंपनियां देशभर में हरिद्वार व ऋषिकेश का गंगाजल उपलब्ध कराती थी, लेकिन अब दोनों जगह के गंगाजल उपलब्ध नहीं हो रहे हैं.

यही वजह है कि शहर में जीपीओ के अलावा डोरंडा पोस्ट ऑफिस में ही गंगाजल मिल रहा है. इसके अलावा सभी जिला मुख्यालयों के डाकघरों में गंगोत्री का गंगाजल मिल रहा है.

इसे भी पढ़ें : सुनिये सरकार, 1000 रुपये फॉर्म की फीस पर क्या कह रहे हैं बेरोजगार युवक

200 व 500 एमएल की मिलती है बोतल

उन्होंने बताया कि योजना की शुरुआत में गंगाजल की कीमत अलग-अलग थी. गंगाजल 200 एमएल व 500 एमएल की पैकिंग में है.

ऋषिकेश व हरिद्वार वाले गंगाजल के 200 एमएल की कीमत 15 रुपये व 500 एमएल की कीमत 22 रुपये थी. वहीं गंगोत्री का गंगाजल थोड़े ज्यादा कीमत पर मिलती है.

गंगोत्री के गंगाजल के 200 एमएल गंगाजल के लिए 25 रुपये व 500 एमएल गंगाजल के लिए 35 रुपये देने होते हैं.

योजना की शुरुआत में गंगाजल रांची जीपीओ, डोरंडा प्रधान डाकघर, धुर्वा, नामकुम, कांके, मांडर, बुंडू व तमाड़ उप डाकघर में मिलना था.

इसके अलावा गुमला एचओ, लोहरदगा, सिमडेगा, खूंटी सहित राज्य के कुल 200 डाकघरों में इसे उपलब्ध कराना था.

लेकिन वर्तमान में जिला मुख्यालय के डाकघरों में ही मिल रहा है.

ऑनलाइन भी मंगा सकते हैं

गंगाजल को डाक विभाग ऑनलाइन भी उपलब्ध करा रहा है. ऑनलाइन मंगाने पर पैकिंग और स्पीड पोस्ट चार्ज अलग से देना होता है.

ऑनलाइन ऑर्डर करने के लिए लोगों को डाक विभाग के लिंक पर जाकर ऑर्डर करना होता है.

इसे भी पढ़ें : सरकार के आश्वासन से कितने संतुष्ट हैं पारा टीचर, हमें लिखे…

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: