JharkhandLead NewsRanchi

एक दिन में केवल 31 हजार सैंपल टेस्ट, टेस्टिंग तेज हुई तो बढ़ जाएंगे केस

Ranchi : कोरोना की रफ्तार तेज हो गई है. झारखंड में भी एक दिन में सबसे ज्यादा 482 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. यह देखते हुए भले ही हेल्थ डिपार्टमेंट अलर्ट हो गया है. लेकिन टेस्टिंग की रफ्तार धीमी है. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि एक दिन में जहां 60 हजार तक सैंपल टेस्ट किए जा रहे थे वह आधी हो गई है. ऐसे में सैंपल टेस्टिंग बढ़ा तो केस भी बढ़ेंगे. बताते चलें कि अभी 31 हजार सैंपल की टेस्टिंग हर दिन झारखंड में की जा रही है. अबतक झारखंड में 1,80,20.723 सैंपल कलेक्ट किए जा चुके हैं. जिसमें 1,80,06,895 सैंपल की टेस्टिंग की जा चुकी है.

इसे भी पढ़ें :  आबकारी विभाग का पटमदा के कटिन में विदेशी शराब गोदाम में छापा

6 जिलों में एक भी केस नहीं

Catalyst IAS
ram janam hospital

गढ़वा, गोड्डा, लोहरदगा, पाकुड़, साहेबगंज, सिमडेगा में कोरोना का एक भी केस नहीं है. वहीं बाकी के 18 जिलों में केस एक हजार के पार पहुंच गया है. रांची और कोडरमा में तो रिकार्ड मरीज मिल रहे हैं. धनबाद, पूर्वी सिंहभूम में भी मरीजों की संख्या बढ़ रही है. जल्द ही लोग नहीं चेते तो स्थिति दूसरी लहर जैसी हो जाएगी. राज्य में अभी 1371 एक्टिव केस बचे है. हालांकि इसके लिए हेल्थ डिपार्टमेंट ने कमर कस ली है.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें :  Jharkhand : दो साल में 16 लाख 21 हजार प्रवासी मजदूर रजिस्टर्ड, 397 को ही मिला रोजगार

40 परसेंट बेड रिजर्व रखने का निर्देश

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों को निर्देश जारी कर दिया है. जिसमें मरीजों की बढ़ती संख्या पर चिंता जताई गई है. साथ ही कहा गया है कि राज्य अपने हॉस्पिटल्स में 40 परसेंट से ज्यादा आक्सीजन सपोर्टेड बेड रिजर्व रखे. जिससे कि किसी भी आपात स्थिति से निपटा जा सके. चूंकि डेल्टा वैरिएंट ने पहले कहर मचाया था. अब ओमिक्रोन भी तेजी से अपने पांव पसार रहा है.

इसे भी पढ़ें : बिहार में 3.57 लाख शिक्षकों के वेतन में 15 फीसदी बढ़ोतरी

Related Articles

Back to top button