JharkhandLead NewsRanchi

25 लाख के इनामी नक्सली विमल यादव सहित तीन एनआईए के रिमांड पर, उगले कई राज

Ranchi: 25 लाख के इनामी नक्सली विमल यादव उर्फ राधेश्याम यादव सहित तीन नक्सली को एनआईए ने पांच दिन के रिमांड पर लिया है. एनआईए के रिमांड पर लोहरदगा जिले के पेशरार थाना क्षेत्र के बुलबुल निवासी सुरज नाथ खेरवार उर्फ गुड्डू, लोहरदगा जिले के पेशरार थाना क्षेत्र के इचवाटांड निवासी विष्णु दयाल नगेशिया और बिहार के जहानाबाद के करौना थाना क्षेत्र के सालेमपुर निवासी विमल यादव उर्फ राधेश्याम यादव उर्फ उमेश यादव को लिया गया है. तीनों को बीते बुधवार को पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है. पूछताछ में विमल यादव ने कई राज एनआईएस के समक्ष उगले है.

एनआईए विमल यादव से नक्सलियों के फंडिंग और हथियार सप्लाई से संबंधित जानकारी एकत्र कर रहा है. इसी सिलसिले में एनआईए जेल में बंद नक्सलियों से लगातार पूछताछ कर रही है. एनआईए बिहार और झारखंड के कई लोगों को अपने रडार पर लिया है.

रिमांड पर लेकर एनआईए की टीम नक्सलियों की जड़ों को खोदकर बड़ी संगठन को पूरी तरह से कमजोर करने में बड़ी कार्रवाई करेगी. तीनों नक्सलियों से एनआईए अहम राज उगलवाएगी.

इसे भी पढ़ें:मौजूदा राजनीतिक समीकरण देखते हुए JMM ने हेमंत के लिए तैयार किए दो प्लान, A होगा फेल तो दूसरा Paln B होगा Execute !

Sanjeevani
MDLM

25 मामले दर्ज है, 25 लाख के इनामी विमल यादव पर\

विमल यादव 25 फरवरी को झारखंड पुलिस के समक्ष सरेंडर किया था. विमल यादव अरविंद की मौत के बाद नेतृत्व संभाल रहा था. वर्ष 2005 में सब जोनल कमांडर बना, 2009 में जोनल कमांडर बना, 2011 में रीजनल सदस्य बना, 2012 में एसएसी सदस्य बना, दिसम्बर 2018 में प्लाटून बना, 2019 में सुधाकरण की मौत के बाद प्लाटून का चार्ज लिया. बिहार व झारखंड के विभिन्न थाना क्षेत्रों में दर्जनभर हत्याओं व हमलों का आरोपी है.

उस पर बिहार व झारखंड के विभिन्न थानों में नक्सली घटनाओं से संबंधित कुल 25 कांड दर्ज हैं. जिसमें जहानाबाद में पांच, मसौढ़ी में एक, बारेसाढ़ में तीन, चंदवा में एक, छिपादोहर थाने में एक, गढ़वा के भंडरिया में 12, रमकंडा में एक व तमाड़ में एक कांड शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें:झारखंड की सड़कों पर चलने वाले कमर्शियल वाहनों से भी वसूला जायेगा यूजर FEE, मोबाइल एप से ली जाएगी मदद

रविंद्र गंझू दस्ते का सदस्य था विष्णु दयाल नगेशिया और सूरज नाथ खेरवार उर्फ गुड्डू

विष्णु दयाल नगेशिया रविद्र गंझू दस्ते का सदस्य था. ‘नई दिशा’ के तहत 17 नवम्बर 2021 को माओवादी के सब जोनल कमांडर विष्णु दयाल नगेशिया अपने सहयोगी एरिया कमांडर आकाश नगेशिया ने सरेंडर लोहरदगा पुलिस के समक्ष समक्ष सरेंडर किया था. विष्णु दयाल नगेशिया लोहरदगा जिले के पेशरार थाना अंतर्गत इचवा टांड ओनेगढा का निवासी हैं. विष्णु दयाल नगेशिया के खिलाफ पेशरार, कुरुमगढ़ व गारू थाने में विभिन्न कांडों के लगभग एक दर्जन मामले दर्ज हैं. विष्णु दयाल नागेशिया 2013-14 में माओवादी रवींद्र गंझू के दस्ते में शामिल होकर कई उग्रवादी घटनाओं को अंजाम दिया था.

वही 5 अप्रैल को भाकपा माओवादी का हार्डकोर नक्सली सूरजनाथ खेरवार उर्फ गुड्डू ने लोहरदगा पुलिस के समक्ष सरेंडर किया. सुदूरवर्ती पेशरार थाना क्षेत्र के बुलबुल निवासी हार्डकोर नक्सली सूरजनाथ पुलिस की नजर में मोस्ट वांटेड था.

15 लाख रुपये का इनामी नक्सली रविंद्र गंझू के दस्ता में शामिल था. सूरज नाथ खेरवार पर भी दो लाख रुपये का इनाम का प्रस्ताव भेजा गया था. हालांकि मंजूरी नहीं मिल पाई थी.

इसे भी पढ़ें:Ranchi: PLFI संगठन के नाम पर मांगे गयी 20 लाख या एके-47 राइफल, नहीं देने पर फौजी कार्रवाई की धमकी

Related Articles

Back to top button