न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सांसद संजय सेठ के निर्देश पर आनन-फानन में बनी सड़क, अब गुणवत्ता पर स्थानीय लोग उठा रहे सवाल 

लोगों का कहना है कि सांसद के 10 जून तक सड़क बनाने के दिये निर्देश के बाद आनन-फानन में अधिकारियों ने जैसी सड़क बनायी है, उसकी स्थिति काफी खराब है.

83

Ranchi :  रांची के सांसद संजय सेठ के निर्देश के बाद पिस्का मोड़ स्थित लक्ष्मी नगर के पास बनी सड़क पर स्थानीय लोगों से सवाल खड़ा किया है. लोगों का कहना है कि सांसद के 10 जून तक सड़क बनाने के दिये निर्देश के बाद आनन-फानन में अधिकारियों ने जैसी सड़क बनायी है, उसकी स्थिति काफी खराब है. बनायी गयी सड़क पर धूल इतनी उड़ रही है कि यहां पर रहने वाले लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है.

स्थानीय निवासियों का आरोप है कि यहां उड़ने वाली धूल का सेवन करना  50 सिगरेट के बराबर है. महज 600 मीटर की सड़क पर इतनी धूल उड़ रही है कि राहगीर मुंह पर कपड़ा ढंककर जा रहे हैं. पिस्का मोड़ के लक्ष्मी नगर से गुजरने वाली उक्त सड़क पंडरा,  काठीटांड होते हुए लोहरदगा,  डालटनगंज आदि जिलों को जोड़ती  है. रोजाना इस सड़क पर लाखों छोटे-बड़े वाहन गुजरते हैं. अगर सड़क मजबूत नही हुई, तो जल्द ही सारी पोल खुल जायेगी.

इसे भी  पढ़ेंः आईएलएंडएफएस के डूबने की जिम्मेदारी आखिरकार किसकी है ?

सांसद ने 10 जून तक सड़क निर्माण का दिया था निर्देश

मालूम हो कि बीजेपी से नये सांसद बने संजय सेठ ने गत 28 मई को पिस्का मोड़ स्थित लक्ष्मी नगर के समीप खराब पड़ी सड़क का निरीक्षण किया था. निरीक्षण के दौरान सांसद ने 10 जून तक नेशनल हाईवे के अधिकारियों को सड़क दुरुस्त करने का निर्देश दिया था. 10 जून यानि सोमवार तक अधिकारियों ने काम तो पूरा कर लिया, लेकिन बनायी गयी सड़क की गुणवत्ता काफी खराब बतायी जा रही है.

सड़क पर जिस तरह से गिट्टी बिखेर कर छोड़ दी गयी है, उससे यहां पर दुर्घटना का खतरा बना रही है. स्थानीय लोगों का कहना है कि आनन-फानन में सांसद को खुश करने के चक्कर मे पथ निर्माण विभाग के अधिकारियों ने जैसे -तैसे सड़क को बना दिया.

इसे भी पढ़ेंः भीषण गर्मी को लेकर रांची के स्कूल सुबह 6.30 से 10.30 तक होंगे संचालित : उपायुक्त

Related Posts

जमशेदपुर पश्चिम में आप नेता शंभू चौधरी की धमक से आया ट्विस्ट, सरयू के गढ़ में दिखेगा चुनावी घमसान

शंभू चौधरी एक समाज सेवी की हैसियत से जमशेदपुर पश्चिम में जाने जाते हैं और लंबे समय तक वह आजसू में रह चुके हैं.

SMILE

सड़क की गुणवत्ता पर लोग उठा रहे  सवाल

सांसद के निर्देश पर आनन-फानन में तैयार उक्त सड़क की गुणवत्ता पर अब आसपास के लोग ही सवाल खड़ा कर रहे है. उमा शंकर पाठक नामक एक बुजुर्ग व्यक्ति ने बताया कि पिछले कई वर्षों से यहां पर सड़क बनते देख रहा हूं , पर हमेशा की तरह इस बार भी यहां घटिया सड़क ही बनी है. सड़क बनाने वाले ने स्थानीय लोगों के साथ आंखमिचौली खेली है. रात को घटिया किस्म के मेटेरियल से सड़क बनाकर चल गये हैं. इसका असर यह है कि सड़क निर्माण में उपयोग किये गये चिप्स से सीमेंट अलग हो जा रहा है.

किराना दुकान चलाने वाले हेम चौधरी ने कहा कि यह सड़क एक बरसात भी नही झेल पायेगी. सड़क इस तरह बनायी गयी है कि बारिश होने पर सड़क से बरसात का पानी बहकर सीधे मकानों और दुकानों में घुसेगा. जिससे लोगो के घरों में पानी जम जायेगी. लोगो ने मांग की है कि सड़क पर उड़ रही धूल की सफाई और सीमेंट के ऊपर अलकतरा की पिचिंग का काम किया जाये. ताकि सड़क चलने लायक और मजबूत हो सकें.

नहीं हो सका सांसद संजय सेठ से संपर्क

पूरे मामले पर जानकारी लेने के लिए सांसद संजय सेठ से फोन पर संपर्क करने की कोशिश की गयी,  लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका. हालांकि उन्हें मैसेज भेज कर द इस बात की जानकारी लेने का भी प्रयास भी हुआ. लेकिन समाचार लिखे जाने तक उनका जवाब नहीं मिल सका है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: