न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्थापना दिवस पर आंदोलनकारियों ने गड़बड़ी की तो सख्ती से निपटेगी सरकार

स्थापना दिवस समारोह पर खर्च हो रहे हैं आठ करोड़ रुपये, राजधानी के सभी चौक-चौराहों की कर दी गयी है सजावट

213

Ranchi:  राज्य का 18वां स्थापाना दिवस 15 नवंबर को मनाया जायेगा. इस दिन मोरहाबादी मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा. इस दिन कार्यक्रम के दौरान किसी भी प्रकार की गड़बड़ी करनेवालों या विरोध प्रदर्शन करनेवालों से सरकार सख्ती से निपटेगी. स्थापना दिवस समारोह पर आठ करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे हैं. सिर्फ 2.50 करोड़ रुपये मोरहाबादी मैदान में जर्मन हैंगर, पंडाल और बैरिकेटिंग के लिए खर्च किया जा रहा है. यहां पर 30 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की जा रही है. शाम को मोरहाबादी मैदान में कविता कृष्णमूर्ति और गायक सुरेश वाडेकर का कार्यक्रम भी आयोजित किया जायेगा. सांस्कृतिक कार्यक्रम में एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि खर्च की जायेगी. इसके लिए कैलाश खेर की कंपनी को जिम्मेवारी दी गयी है.

इसे भी पढ़ें – 15 नवंबर को सामूहिक आत्मदाह करने की तैयारी में रसोईया संघ

  • 18 वर्ष का युवा झारखंड का पोस्टर और बैनर पूरे शहर में लगा
  • 30 हजार लोगों के लिए मोरहाबादी मैदान में बन रहा है जर्मन हैंगर

स्नातकोत्तर प्रशिक्षित शिक्षकों को मिलेगा नियुक्ति पत्र

राज्य स्थापना दिवस के दिन सरकार पोस्ट ग्रैजुएट प्रशिक्षित सफल अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सौंपेगी. 15 सौ पीजीटी सफल अभ्यर्थियों को ड्रेस कोड के साथ मुख्य समारोह में उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है. इसके अतिरिक्त जल संसाधन विभाग में कनीय अभियंताओं को भी नियुक्ति पत्र दिया जायेगा. सरकार की तरफ से चयनित किसानों के बीच पंप सेट का वितरण भी किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – News Wing के खुलासे के बाद फायरिंग के वायरल वीडियो मामले को मैनेज करने की चल रही है कोशिश !

18 वर्ष के युवा झारखंड का पोस्टर बैनर लगा

पूरे शहर में 18 वर्ष के युवा झारखंड का पोस्टर बैनर लगाया गया है. इसमें मुख्यमंत्री रघुवर दास और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंडवासियों को बधाई दे रहे हैं. पोस्टर में राज्य के गठन के 18 वर्ष को सांकेतिक रूप दिया गया है. स्थापना दिवस समारोह के लिए सभी चौक-चौराहों में आकर्षक एलइडी लाइटिंग की गयी है. कई जगहों की सड़कें भी बनायी गयी हैं. इनमें एचइसी चेकपोस्ट से लेकर प्रोजेक्ट भवन जानेवाली सड़क, कैलाशपति मिश्र चौक, अरगोड़ा-अशोकनगर पथ में कई जगहों पर सड़क बनायी गयी है. शहर के सभी इलेक्ट्रिक पोल पर मोमेंटम झारखंड के तर्ज पर लाइटिंग की गयी है.

इसे भी पढ़ें – रिनपास में दो साल से खराब पड़ी है सिटी स्कैन मशीन, रिम्स जाकर मरीज कराते हैं टेस्ट

आंदोलनकारियों से सख्ती से निबटने का निर्देश

स्थापना दिवस के दिन विरोध करनेवालों या विध्न पहुंचानेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि स्थापना दिवस का विरोध करना राज्य के प्रति असम्मान जैसा है. ऐसे लोगों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें कार्यमुक्त कर दिया जायेगा. स्थापना दिवस पर पारा शिक्षकों और अन्य संगठनों की तरफ से विरोध प्रदर्शन करने की घोषणा की गयी है. इसे सरकार ने गंभीरता से लिया है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि ऐसे संगठनों पर अनुशासनहीनता की कार्रवाई भी की जायेगी. जिला प्रशासन को ऐसे विरोध प्रदर्शन करनेवालों के खिलाफ वीडियोग्राफी करने का निर्देश दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – सीबीआई विवाद : सीवीसी ने जांच रिपोर्ट SC के हवाले की,सुनवाई शुक्रवार को

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: