GiridihJharkhand

अमृत महोत्सव: गिरिडीह के बैंकों ने तीन सौ लाभुकों के बीच किया 60 करोड़ के कर्ज का वितरण

Giridih: आजादी के अमृत महोत्सव के मौके पर बैंक ऑफ इंडिया समेत जिले के सरकारी और प्राईवेट बैंकों की ओर से ग्राहक संपर्क अभियान कार्यक्रम का आयोजन किया गया. गिरिडीह नगर भवन में आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन डीसी राहुल सिन्हा, विधायक विनोद सिंह बैंक अधिकारियों ने दीप जलाकर किया.

इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीसी राहुल सिन्हा ने कहा कि अमृत महोत्सव के मौके पर इस कार्यक्रम का महत्व सिर्फ इसलिए बढ़ जाता क्योंकि कोरोना के कारण अर्थव्यस्था बेहद खराब हो चुकी है. ऐसे में बैंको से कर्ज लेकर कारोबार शुरु करने वालों के लिए यह बेहद खास मौका है.

advt

मौके पर विधायक विनोद सिंह ने भी कहा कि बैंकों के राष्ट्रीयकरण का मकसद गरीब वर्ग को सूदखोरी और महाजनी प्रथा के चंगुल से मुक्त कराना था. सूदखोरी और महाजनी प्रथा आज भी लागू है. खास तौर पर किसान सूदखोर के चंगुल में फंसकर अपनी जान तक गंवा रहे है. ऐसे में बैंको की भूमिका किसानों और गरीबों को इस सिस्टम से मुक्त दिलाने की दिशा में बेहद जरुरी है. वहीं कार्यक्रम को कई बैंक अधिकारियों ने संबोधित किया.

कार्यक्रम में एमएसएमई सेक्टर, गृहऋण, वाहन कर्ज, किसान क्रेडिट कार्ड, महिला स्वयं सहायता समूह के तीन सौ से अधिक लाभार्थियों के बीच 60 करोड़ का ऋण वितरण किया गया. जिसमें सबसे अधिक महिला स्वयं सहायता समूह और एमएसएमई सेक्टर के लाभार्थियों के बीच बैंक ऑफ इंडिया समेत कई और बैंको द्वारा ऋण उपलब्ध कराया गया.

इस बीच कार्यक्रम में बैंक ऑफ इंडिया के आचंलिक प्रबंधक धनजंय कुमार, डिप्टी जोनल प्रबंधक विनय कुमार, भारतीय स्टेट बैंक के रीजनल प्रबंधक सलीम अहमद, ग्रामीण बैंक के रीजनल प्रबंधक अमरेश सिंह, बैंक आॅफ इंडिया के एमएसएमई सेक्टर के प्रबंधक राजीव कुमार, एलडीएम रवीन्द्र सिंह समेत बैंको के पदाधिकारी और कर्मी के अलावे लाभार्थी शामिल हुए.

इसे भी पढ़ें – Ramgarh: ऑटो पलटने से 2 मजदूरों की मौत, 5 घायल

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: