JharkhandRanchi

हाता-चाईबासा राजमार्ग में जर्जर पुल का निर्माण किये जाने तक वैकल्पिक मार्ग बनायें अधिकारी :  हेमंत सोरेन

विज्ञापन

Ranchi : पश्चिम सिंहभूम स्थित हाता-चाईबासा राजमार्ग (राष्ट्रीय राजमार्ग -220) में बंद पड़े जर्जर पुल से लोगों को हो रही परेशानी की शिकायत मुख्यमंत्री को मिली है. इस संबंध में मुख्यमंत्री ने जिले के डीसी को निर्देश दिया है कि इस राजमार्ग में जब तक जर्जर पुल का निर्माण नहीं हो जाता, तबतक वे वैकल्पिक मार्ग यानी डायवर्सन का निर्माण करें. वहीं राज्य के सभी जिले के डीसी को निर्देश दिया है कि जिले में विधवा पेंशन योजना को सख्ती से लागू कराएं. इसपर किसी तरह की कोताही बर्दाशत नहीं की जाएगी.

इसे भी पढ़ें :  प्रेमसागर मुंडा हत्याकांड: टीपीसी ने घटना से किया इनकार, कहा पुलिस अपने बचाव के लिए ले रही संगठन का नाम

जर्जर पुल देख प्रशासन ने बंद कर रखा है राजमार्ग

सोशल मीडिया में ट्वीट के माध्यम से मुख्यमंत्री को यह जानकारी मिली कि हाता-चाईबासा राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच-220) पर राजनगर थाना क्षेत्र के मुरुमडीह में वर्षों पुराना पुल जर्जर स्थिति में है. लोगों के सुरक्षा को देखते हुए एहतियान तौर पर जिला प्रशासन ने भारी वाहनों का परिचालन विगत 7 फरवरी से बंद कर दिया है. इस राजमार्ग से भारी वाहनों का परिचालन पिछले 15 दिनों से ठप है. अभी तक न तो डायवर्सन बना और न ही पुल निर्माण के लिए कोई कार्रवाई हो रही है. उस वजह से व्यापार पर बुरा असर पड़ रहा है. इस मामले में मुख्यमंत्री ने नाराजगी जतायी है. उन्होंने डीसी को कहा है कि प्रशासन इस बात का ध्यान रखे कि लोगों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े. तत्काल ही यातायात सुगम करने को अपने कामों में प्राथमिकता दें.

advt

इसे भी पढ़ें :  रांची: कांके MLA समरी लाल के निर्वाचन को चुनौती की याचिका पर सुनवाई, 8 सप्ताह में पक्ष रखने का निर्देश

विधवा सम्मान पेंशन में विलम्ब सही नहीं, कामों में सुधार लायें अधिकारी

बोकारो जिले की पवन देवी को विधवा पेंशन नहीं मिलने से सीएम ने नाराजगी जतायी है. उन्होंने जिले के डीसी को निर्देश दिया है कि वे पीडिता की विधवा पेंशन शुरू करने में मदद करें. उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारी व कर्मचारी मामलों को अकारण न लटकायें. इससे पहले सीएम को बताया गया था कि पवन देवी विधवा पेंशन के लिए लगातार तीन वर्षों से विधवा सम्मान पेंशन फॉर्म जमा कर रहीं हैं, लेकिन अभी तक पेंशन मिलने की प्रक्रिया आरंभ नहीं हुई है. संबंधित पदाधिकारी से पूछे जाने पर कहा जाता है कि अभी विधवा सम्मान पेंशन का काम बंद है. यह जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री ने यह निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें : चतरा में 40 सड़कें गायब! डीडीसी मुरली मनोहर प्रसाद को शोकॉज, बीडीओ पर प्रोसिडिंग, 7 कान्ट्रैक्टकर्मी बर्खास्त

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button