JharkhandLead NewsRanchi

ओड़िशा के निवेशकों को रांची स्मार्ट सिटी में निवेश के लिए किया आमंत्रित

शिक्षा क्षेत्र में निवेश की असीम संभावना: मुकेश कुमार

Ranchi : रांची नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने ओड़िशा के निवेशकों को झाररखंड की राजधानी रांची स्मार्ट सिटी एरिया में निवेश के लिए आमंत्रित किया. ओड़िशा की राजधानी में आयोजित इन्वेस्टर्स मीट 2021 में बोलते हुए नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने कहा कि देश में झारखंड भविष्य और अपार संभावनाओं का राज्य है इसलिए विभिन्न क्षेत्रों में निवेश के इच्छुक निवेशकों को रांची स्मार्ट सिटी में निवेश जरूर करना चाहिए.

रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन की ओर से आयोजित इस समिट में उन्होंने कहा कि देश के तमाम प्रतिष्ठित उद्योगपतियों, केंद्र सरकार के पीएसयू और देश के बड़े संस्थानों का संबंध झारखंड से जरूर रहा है. क्योंकि यहां पर खनिज संपदा के साथ-साथ यहां का मौसम तथा राज्य सरकार की ओर से बिजनेस व्यापार के लिए बनी नीतियां बेहद आकर्षक हैं.

advt

इसे भी पढ़ें:ट्रेड फेयर में पलाश के 6 लाख और आदिवा ब्रांड के नौ लाख रुपये के बिके गहने, 15 लाख का मिला ऑर्डर

इस अवसर पर रांची स्मार्ट सिटी कारपोरेशन के सीईओ अमित कुमार ने भुवनेश्वर के निवेशकों से रांची स्मार्ट सिटी में निवेश करने का आग्रह किया और कहा कि भुनेश्वर में उच्च शिक्षा के लिए बड़ी संख्या में शैक्षणिक संस्थान हैं और जब हम रांची को एजुकेशन हब के रूप में विकसित कर रहे हैं, तो आपका सहयोग जरूरी है.

इस शहर को एजुकेशन हब बनाने में आपके अनुभव का महत्वपूर्ण योगदान मिलना चाहिए. राज्य सरकार निवेशकों को हरसंभव मदद करेगी. अमित कुमार ने कहा कि रांची स्मार्ट सिटी में ई ऑक्शन प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी और कॉन्टैक्टलेस है.

इसे भी पढ़ें:अविश्वसनीयः बंद खदान में चार दिनों से फंसे 4 लोग मौत को मात देकर आये बाहर

देश के किसी भी कोने में बैठा निवेशक अपने पसंद के प्लॉट के लिए ऑक्शन में भाग ले सकता है. उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी क्षेत्र में पारदर्शिता का ख्याल रखते हुए आवासीय, शैक्षणिक, स्वास्थ्य, व्यावसायिक, मिक्स यूज इत्यादि क्षेत्र के लिए चिन्हित प्लॉट्स के ई ऑक्शन को कॉन्टैक्टलेस बनाया गया है.

इस पूरे क्षेत्र में प्रदूषणयुक्त इंडस्ट्री लगाने का कोई प्रावधान नहीं है. कार्यक्रम में रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन के महाप्रबंधक राकेश कुमार नंदकुलयार ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के जरिए स्मार्ट सिटी के रूप रेखा विभिन्न क्षेत्र में कार्य कर रहे संभावित निवेशकों के समक्ष रखा. कार्यक्रम में स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन के पीआरओ अमित कुमार भी मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें:राज्यसभा ने 12 सांसदों को पूरे सत्र के लिए सस्पेंड किया, नहीं आ सकेंगे सदन में

ये मिलेंगी सुविधाएं

  • विश्व के टॉप 5 हंड्रेड यूनिवर्सिटी का कोई भी एक विश्वविद्यालय अगर दिलचस्पी दिखाता है तो उसे रुपये 1 में 25 एकड़ जमीन उपलब्ध करायी जायेगी.
  • शैक्षणिक क्षेत्र में काम करनेवाली कंपनियां शैक्षणिक क्षेत्र के लिए चिन्हित प्लॉट्स पर ऑक्शन करेंगी तो उनकी कीमत आवासीय की तुलना में एक तिहाई रखी गयी है.
  • रांची स्मार्ट सिटी का मास्टर प्लान ट्रांसिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट पर आधारित है.
  • किसी भी प्लॉट से 400 मीटर की दूरी के अंदर ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट उपलब्ध होगा.
  • निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए जीआईएस सब स्टेशन का निर्माण हो चुका है.
  • कोई भी बिजली और टेलीफोन का तार स्मार्ट सिटी क्षेत्र के अंदर ओवरहेड वायर के रूप में नहीं दिखायी देगा.
  • सभी यूटिलिटी सर्विसेज यूटिलिटी डक्ट के अंदर से होकर हर प्लॉट तक पहुंचेगा.
  • रांची स्मार्ट सिटी हर निवेशक को तकनीकी सहयोग के लिए तत्पर है.
  • शहर के विकास में ग्रीन तकनीकी पर विशेष बल दिया गया है.
  • ईज आफ लिविंग को प्रोत्साहित करने को ध्यान में रखते हुए विश्व स्तरीय योजनाएं बनाई गई है.
  • नये शहर में रिन्यूएबल एनर्जी, सोलर सिस्टम, सीएनजी जल संरक्षण और पर विशेष जोर दिया गया है.
  • रांची स्मार्ट सिटी का इलाका राजधानी के पावर सेंटर में अवस्थित है.
  • विभिन्न कारणों से निवेश के लिए रांची देश के बेहतर स्थानों में शामिल है.
  • व्यवसाय, उद्योग और मौसम के लिहाज से बेहतरीन शहरों में शामिल है रांची.

इसे भी पढ़ें:नेशनल वूमेन चैंपियनशिपः झारखंड की महिला फुटबॉल टीम की शानदार शुरुआत, कर्नाटक को दी मात

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: