Lead NewsNational

राज्यसभा से भी ओबीसी आरक्षण संशोधन विधेयक पारित

Ranchi : राज्यसभा से बुधवार को पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण संशोधन बिल पारित हो गया. राज्यसभा से पारित होने के बाद अब इसे राष्ट्रपति के पास भेजा जायेगा. राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद यह एक कानून का रूप ले लेगा और राज्यों को ओबीसी सूची तैयार करने का अधिकार मिल जायेगा. राज्य सरकार सामाजिक और शैक्षणिक दृष्टिकोण से पिछड़े क्लास के हिसाब से अपनी राज्य सूची में संशोधन करने में सक्षम हो सकेगी.

मालूम हो कि मंगलवार को लोकसभा से यह बिल पारित हो चुका है. लोकसभा में विधेयक के पक्ष में 385 मत पड़े जबकि विपक्ष में एक भी वोट नहीं पड़ा.

इसे भी पढ़ें :जिला जज उत्तम आनंद की मौत मामले में CBI ने दोनों आरोपियों को धनबाद कोर्ट में किया पेश, बढ़ाई गयी रिमांड की अवधि

इस सर्वसम्मति के बावजूद चर्चा के दौरान राजनीति खूब हुई और पक्ष और विपक्ष की ओर से यह जताने की कोशिश भी कि दूसरे पक्ष ने ओबीसी की चिंता नहीं की.

राज्यों के अधिकार बहाली से जुड़े इस संविधान संशोधन विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री वीरेंद्र कुमार ने कहा कि इस विधेयक से संघीय व्यवस्था मजबूत होगी.

राज्यों को फिर से उनके अधिकार मिलेंगे. जिसमें वे पहले की तरह ओबीसी जातियों की पहचान कर सकेंगे और उनकी सूची भी तैयार कर सकेंगे. ओबीसी के हित में वह और बेहतर तरीके से काम कर सकेंगे.

इसे भी पढ़ें :पूरी नहीं हो पायी रूपा तिर्की की मौत के मामले की सुनवाई, अगली सुनवाई 13 अगस्त को

Related Articles

Back to top button