Deoghar

एनएसएस ने श्रावणी मेला में भटकते बच्चे को परिवार से मिलाया

Deoghar : विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला में राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) स्वयंसेवक कांवरियों को निःशुल्क सेवा सहायता करने में जुटे हैं. मंगलवार को स्वयंसेवकों ने समाज और देश के प्रति अपना कर्तव्य निर्वाह किया. आज राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने अपनी मां व परिजनों से भटक गये एक 6 साल के बच्चे को मिलवाया. दरअसल रूट लाइनिंग में स्वयंसेवक अपनी सेवा दे रहे हैं. शिवगंगा परिसर के पास उक्त नन्हा बालक अपने परिवार से बिछड़ गया था. बच्चे का नाम कुंदन कुमार है. उसके पिता का नाम शुगर कुमार है और वह सीतामढ़ी का रहने वाला था.

इसे भी पढे़ं:देवघर से गिरफ्तार श्रवण कुमार मंडल पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन सिमी के लिए करता था काम

स्वयंसेवक को वह बच्चा मिला तो वहां से तुरंत नजदीकी जलसार सूचना केंद्र लेकर आए और जलसार सूचना केंद्र में उसके नाम की घोषणा हुई तो कुछ समय के बाद उसकी मां जलसार सूचना केंद्र पहुंची.

ram janam hospital
Catalyst IAS

स्वयंसेवक ने उसकी मां को बच्चे को सौंप दिया. मां व परिवार के लोगों द्वारा स्वयं सेवकों को धन्यवाद दिया गया. बच्चे को परिवार से मिलाने वाले स्वयंसेवक में प्रियंका कुमारी, पंकज कुमार, युवराज, संतोष कुमार, प्रगति राज शामिल हैं. इस बाबत वॉलिंटियर टीम की नेतृत्व कर रही राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयंसेविका मयूरी कुमारी ने वालंटियर को धन्यवाद दिया.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

इसे भी पढे़ं:ईडी को मिली पंकज मिश्रा की रिमांड, 6 दिनों तक होगी पूछताछ

Related Articles

Back to top button