Crime NewsJharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

एकलव्य स्कूल के निर्माण पर बवाल, Ranchi जिला प्रशासन की टीम पर ग्रामीणों ने किया हमला

पुलिस ने भी किया लाठीचार्ज, सिलगाई में स्कूल बनाने के लिए ग्रामसभा करने पहुंचे थे अफसर

Ad
advt

Ranchi : रांची के चान्हो थाना के सिलगाई में एकलव्य स्कूल के निर्माण पर चल रहे विवाद ने आज मंगलवार को हिंसक रूप ले लिया. रांची जिला प्रशासन ने सिलगाई में मंगलवार को ग्रामसभा आयोजन किया. इसमें पुलिस ग्रामीणों से वहां स्कूल का निर्माण कराने और नहीं कराने के बारे में राय लेने वाली थी. इस दौरान ग्रामीण उग्र हो गए और पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया.

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया. इसमें दोनों तरफ से लगभग एक दर्जन लोग घायल हुए हैं. घायल होने वालों में 5 से ज्यादा पुलिस कर्मी भी शामिल हैं. फिलहाल स्थिति तनावपू्र्ण बनी हुई है. एहतियातन प्रशासन ने 10 थानों से लगभग 100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को बुला लिया है. ग्रामसभा के आयोजन के लिए जिला मुख्यालय से SDM खुद मोर्चा संभाल रहे हैं. वे खुद घटना स्थल पर मौजूद हैं और हालात को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहे हैं.

advt

इसे भी पढ़ें : हाजीपुर नगर परिषद के निलंबित कार्यपालक पदाधिकारी अनुभूति श्रीवास्तव पर आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज, विस कमेटी करेगी जांच

प्रशासन की तैयारी काम ना आयी

प्रशासन ने ग्रामसभा के शांतिपूर्ण आयोजन के लिए काफी तैयारी की थी. गांव में काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था. गांव हर एंट्री प्वाइंट पर बैरिकेडिंग की गई थी. प्रशासन की कोशिश थी कि गांव से बाहर के किसी विरोधी को इस सभा में शामिल नहीं होने दिया जाए. लेकिन विरोधी गुट के लोग नहीं माने और सभा में शामिल होने के लिए पहुंच गए. इसके बाद विवाद बढ़ गया.

advt

ग्रामीणों ने गिरा दी थी बाउंड्री

इस मामले में 15 दिन पहले उग्र ग्रामीणों ने निर्माणाधीन एकलव्य विद्यालय की बाउंड्री गिरा दी थी. निर्माण स्थल पर मौजूद तीन मिक्सचर मशीन को आग के हवाले कर दिया था. इसके बाद से स्कूल का निर्माण कार्य रुक गया था.

इसे भी पढ़ें : आधा दर्जन मामलों में दांव पर है झारखंड सरकार की प्रतिष्ठा

इसलिए हो रहा विरोध

आदिवासी संगठन अमर शहीद वीर बुधु भगत के स्मारक स्थल पर विद्यालय निर्माण का विरोध कर रहे हैं. उनका कहना कि इस स्थान से शहीद वीर बुधु भगत की आस्था जुड़ी है. सरकार जहां चाहे स्कूल का निर्माण करा ले. यहां स्कूल का निर्माण नहीं होने देंगे.

इसे भी पढ़ें : मंजूनाथ भजंत्री पर सांसद के झूठे आरोप पर की कार्रवाई, पुर्न विचार करें : अधिवक्ता

अर्जुन मुंडा ने कहा था, नहीं मिल रहा राज्य सरकार का सहयोग

वहीं इस मामले में केंद्रीय जनजातीय मंत्री अर्जुन मुंडा पहले ही इस पर अपना दर्द जता चुके हैं. उन्होंने कहा था कि दूसरे प्रदेशों में इसपर तेजी से काम हो रहा है, लेकिन झारखंड सरकार का सहयोग इसमें नहीं मिल रहा है. झारखंड में एकलव्य स्कूल खोलने के राह में रोड़े अटकाये जा रहे हैं. जब स्कूल खोलने की तैयारी शुरू हो रही तो जमीन को लेकर पेंच फंस जा रहा है. लोग कहते हैं यहां स्कूल मत बनाइये कहीं और ले जाइये. उन्होंने ये बातें 23 अक्टूबर को BJP की कार्यकारिणी समित की बैठक में कही थी.

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: