Education & CareerJharkhand

एनपीयू के पीजी कोर्सेस में एक मई तक कराएं एडमिशन, घंटी आधारित शिक्षक लेंगे ऑनलाइन क्लास

Ranchi / Palamu : नीलाम्बर-पीताम्बर यूनिवर्सिटी कोविड के बढ़ते मामलों के बीच स्टूडेंट्स के कोर्स पूरा करने को लेकर प्रतिबद्ध है. यूनिवर्सिटी इसके लिए पूर्व से ही ऑनलाइन क्लासेस करा रहा है. वहीं विवि विभागों और अंगीभूत कॉलेजों में जहां सीटें रिक्त रह गयी हैं वहां एक मई तक एडमिशन के मौके दे रहा है. विवि प्रशासन ने कहा है कि विवि स्नातकोत्तर विभाग और अंगीभूत कॉलेजों के पीजी कोर्सेस में छात्र-छात्राएं एक मई तक चांसलर पोर्टल पर नामांकन करा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: Garhwa में कोरोना संक्रमित युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, इलाज के दौरान अधेड़ की मौत

advt

इसके अतिरिक्त प्रो वीसी दीपनारायण यादव ने स्टूडेंट्स हित में कहा है कि सभी घंटी आधारित शिक्षक ऑन लाइन क्लास लेते रहेंगे. इससे सरकार के अगले गाइड लाइन के अनुसार परीक्षा का संचालन करने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा.  उन्होंने कहा कि स्टूडेंट्स के सिलेबस को पूरा कराना शिक्षकों का दायित्व है. क्लास लेने संबंधी जानकारी संबंधित कॉलेज के प्राचार्य को उपलब्ध करायेंगे. कॉलेज के प्राचार्य नियमित एवं घंटी आधारित शिक्षकों द्वारा ऑन लाईन वर्ग संचालन की विधिवत सूचना विवि को उपलब्ध करायेंगे. यह व्यवस्था दो मई तक जारी रहेगी.

इसे भी पढ़ें: CORONA का कहर : झारखंड के एक और अधिकारी की कोरोना से मौत

मुख्यालय में ही रहेंगे शिक्षक-शिक्षकेत्तर कर्मचारी

प्रो वीसी ने कहा कि सभी पदाधिकारी, संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, प्राचार्य, शिक्षक और शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को कोविड-19 में मुख्यालय नहीं छोड़ना है. उन्होंने कहा कि सभी अपने-अपने मुख्यालय के आवास में रहकर कार्यालय, विवि के कार्यो का निष्पादन करेंगे. कॉलेज के प्राचार्यो, शिक्षक-शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को आवश्यकता पड़ने पर कार्यालय बुलाया जा सकता है. वहीं सभी पदाधिकारी, संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, प्राचार्य, शिक्षक और शिक्षकेत्तर कर्मचारी सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के सुरक्षा के लिए समुचित उपाय स्वयं सुनिश्चित करेगे. यह निर्णय छात्रहित में लिया गया है.

इसे भी पढ़ें: अब अपराधियों की खैर नहीं,एंटी क्राइम अभियान चलाकर पुलिस अपराधियों पर कसेगी लगाम

 

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: